मेरा बिलासपुर

VIDEO-जब आम के पेड़ से आयी महुआ की गंध,खोखले तने से निकला पचास लीटर शराब,अचंभित हुआ आबकारी विभाग

बिलासपुर—- जिला आबकारी विभाग की टीम ने बड़ी कार्रवाई करते हुए गनियारी में अजीबो गरीब तरीके से छिपाई गयी भारी मात्रा में शराब को बरामद किया है। आबकारी महकमें को उस समय आश्चर्य में पड़ गया जब पचास लीटर से अधिक शराब पेड़ के खोखले तने में छिपाकर रखना पाया गया। बहरहाल आबकारी की टीम ने शराब को जब्त कर लिया है। पता लगाया जा रहा है कि आखिर शराब को किसने छिपाकर रखा था।मुखबिर से आबकारी विभाग सहायक आयुक्त विजय सेन शर्मा को जानकारी मिली कि गनियारी में कुछ लोग संगठित तरीके से शराब निर्माण कर रहे हैं। इतना ही नहीं शराब की अवैध विक्री भी की जा रही है। शर्मा ने तत्काल टीम का गठन कर गनियारी के लिए रवाना किया। जांच पड़ताल के दौरान शराब की बरामदगी जिस जगह से हुई। उसकी कोई कल्पना भी नहीं कर सकता है।आबकारी सहायक आयुक्त विजय सेन शर्मा ने बताया कि शराब निर्माण और अवैध बिक्री की जानकारी के बाद छापामार टीम को गनियारी भेजा गया। छापामार की कार्रवाई सुबह की गयी। छापामार कार्यवाही के दौरान आबकारी टीम को कोई सफलता नहीं मिली। थक हार कर सभी अधिकारी पास में आम के बड़े पेड़ के नीचे खड़े हो गए।

                          इसी बीत आबकारी टीम के सदस्यों ने आम के पेड़ से महुआ शराब की गंध महसूस की। लोगों ने ध्यान से देखा कि आम  का पेड़ जमीन की कुछ ऊंचाई पर शाखा होने के साथ खोखला भी है। शंक को दूर करने आबकारी टीम के अधिकारी आम के पेड़ पर चढ़ गये। बारीकी से जांच के दौरान पाया कि  पेड़ के खोखले तने में जरीकेन में भरककर महुआ शराब को छिपाया गया है। इसके बाद टीम ने एक एक कर करीब पचास लीटर से अधिक कच्ची शराब को तने के बाहर नीचे उतारा।

            विजय सेन ने बताया कि बहरलाल आम पेड़ के मालिक की पतासाजी की जा रही है। क्योंकि मौके पर किसी ने आम पेड़ पर अपना मालिकाना हक नहीं जताया है। शराब किसने छिपाकर रखा है अभी इसकी जानकारी नहीं है।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS