जब मॉडल स्कूल को देख CM डॉ रमन बोले-आपका स्कूल बहुत अच्छा लगा,बच्चों को मन लगाकर पढ़ाई करने की दी सीख

राजनांदगांव-मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने आज राजनांदगांव में पदुमलाल पुन्ना लाल बख्शी कन्या हायर सेकेंडरी स्कूल का लोकार्पण किया। डॉ. रमन सिंह ने वहां छात्राओं को मन लगाकर पढ़ाई करने की सीख दी। उन्होंने कहा- आपका स्कूल बहुत अच्छा लगा। यहां सारी सुविधाएं उपलब्ध हैं। पढ़ाई के साथ ही यहां खेलकूद और सांस्कृतिक कार्यों के लिए भी बहुत सी सुविधा रखी गई है इसके लिए मैं जिला प्रशासन को बधाई देता हूँ। मुख्यमंत्री ने कहा कि स्कूल में पढ़ाई के लिए स्मार्ट क्लास की सुविधा दी गई है। आधुनिक तकनीक से पढ़ाई करना आप लोगों को बहुत रोचक लगेगा। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कक्षाओं में छात्राओं से भेंट की।मुख्यमंत्री ने मॉडल स्कूल के लिए बेहतर कार्य करने यूनिसेफ कंसल्टेंट  शिखा राणा तथा आरईएस के कार्यपालन अभियंता आरके दुबे को सम्मानित भी किया।

मुख्यमंत्री ने नेहा से पूछा कैसे लग रहा है स्कूल में 
मुख्यमंत्री ने लैब का निरीक्षण किया। वहां प्रैक्टिकल कर रही छात्रा नेहा से उसका परिचय लेकर प्रश्न पूछा, नेहा तुम्हें स्कूल में कैसा लग रहा है। नेहा ने कहा, मुख्यमंत्री जी हमें यहाँ बहुत अच्छा लग रहा है। पढ़ाई तो खूब अच्छी हो ही रही है साथ ही यहाँ कल्चरल एक्टिविटी के लिए एंफीथियेटर बनाया गया है जो हमें बहुत अच्छा लग रहा है। साथ ही बास्केट बाल कोर्ट भी है। बहुत बड़ा मैदान है। हम लोग खूब पढ़ाई करेंगे और खूब खेलेंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा: आज सांस्कृतिक कार्यक्रम देखूँगा
मुख्यमंत्री के सम्बोधन के बाद सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति देने छात्राएं तैयार बैठी थीं। सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति को लेकर उनकी ललक देखते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि आप लोग अपना सांस्कृतिक कार्यक्रम आरंभ कर दीजिए। मैं अपनी बात भी कहता जाऊँगा। इसके बाद मुख्यमंत्री ने कहा कि नहीं आपका कार्यक्रम सबसे महत्वपूर्ण है वो पहले शुरू कर दीजिए।

हमर लइका-हमर स्कूल मोबाइल ऐप लांच 
इस मौके पर मुख्यमंत्री ने हमर लइका, हमर स्कूल मोबाइल एप भी लांच किया। यह एप यूनिसेफ की सहयोग से बनाया गया है। इस एप के माध्यम से पंचायत सदस्य या स्कूल प्रबंधन समिति के सदस्य स्कूल का अवलोकन कर अपने फीडबैक प्रशासन तक साझा कर सकते हैं।

कलेक्टर ने दी जानकारी
कलेक्टर भीम सिंह ने मॉडल स्कूल के संबंध में संक्षिप्त जानकारी इस अवसर पर दी। उन्होंने कहा कि कन्या शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए प्रयोग के तौर पर मॉडल स्कूल जिले में आरंभ किया गया है। धीरे-धीरे अन्य स्कूलों का भी मॉडल स्कूल के रूप में विकास किया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस विद्यालय में हाइटेक कंप्यूटर, साइंस लैबोरेटरी, स्मार्ट क्लासरूम, ई-लाइब्रेरी, इंडोर एवं आउटडोर स्पोर्ट्स की सुविधा उपलब्ध है। 6500 फीट में फैला विशाल ग्राउंड है। सुरक्षा के लिए सीसीटीवी कैमरा उपलब्ध है। मेंस्ट्रल पीरिएड के दौरान छात्राओं को किसी तरह की दिक्कत न हो, इसके लिए सैनेटरी नैपकिन वेंडिंग मशीन और इनसिनिरेटर लगाए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *