मेरा बिलासपुर

जिला कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा..हर जंग में किसानों ने दिलाई जीत..फिर चाहिए अन्नदाताओं का आशीर्वाद

बिलासपुर—- कोरोना काल में लोग प्रदेश को बढचढ़कर आर्थिक सहयोग दे रहे हैं। क्या राजा क्या रंक..सभी लोग यह मानकर मदद कर रहे हैं कि मातृभूमि की कितनी मदद कर सकें वह कम है। शासन प्रशासन भी लगातार मदद की गुहार लगा रहा है। इसी क्रम में अब जिला कांग्रेस अध्यक्ष विजय केशरवानी ने छतीसगढ के अन्नदाताओ से भाई बन्धुओं के लिए मदद की मार्मिक अपील की है।
 
              जिला कांग्रेस अध्यक्ष विजय केशरवानी ने  प्रदेश के अन्नदाताओं से अपने भाइयों खासकर श्रमिकों के लिए मदद की मार्मिक अपील की है। विजय ने कहा कि किसान की गिनती  देश की अर्थव्यवस्था में रीढ़ के रूप में होती है। धरती माता का ज्येष्ठ पुत्र और मुखिया कहलाता है। विपरीत परिस्थितियों में परिवार की रक्षा करता है। टूट जाता है.. लेकिन विखरता नहीं । फिर विपरीत परिस्थितियों को भी झुकना पड़ता है। आज एक बार फिर धरत पुत्रों को अपने भाइयों के सहयोग में सामने आना ही होगा। 
 
                                   विजय ने कहा कि संसार इस समय कोरोना से जंग लड़ रहा है। हमारा देश और प्रदेश भी इस भीषण आपदा से अछूता नहीं है। कोरोना ने इतना नुकसान पहुंचाया है। जितना अब तक पिछले सौ सालों में सभी युद्ध में नहीं हुआ है। यद्यपि लोगों की जिन्दगी सुरक्षित रखने लाकडाउन को अपनाया गया। लेकिन समस्या दूसरी खड़ी हो गयी । अर्थव्यवस्था चौपट हो चुकी है। अब हम सबको मिलकर इसे झाड़फूंकर खड़ा करना होगा। 
 
      विजय ने कहा कि लॉक डाउन के दौरान छत्तीसगढ़ के विभिन्न जिलो के हमारे गरीब मजदूर भाई बहन रोजी रोटी की तलाश में अन्य प्रदेश में  गए। लेकिन कोरोना प्रकोप के बाद लाकडाउन के चलते फस गए।  संवेदनशील मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सभी भाइयों की सकुशल वापसी को लेकर श्रमिक स्पेशल ट्रेन चलाने की मांग की। अब सभी मजदूर भाई बहन जल्द ही हमारे बीच पहुंचेंगे।
 
            कांग्रेस नेता ने बताया कि किसान पुत्र भूपेश बघेल की सरकार ने पिछले वर्ष 2018-19 में किसानो का धान 2500 रू प्रति क्विंटल में खरीदा।  इस वर्ष केन्द्र सरकार के विरोध के बाद भी भूपेश ने किसानों का धान 2500 रुपए प्रति क्विंटल में ही खरीदा ।
 
                कठिन वैश्विक महामारी कोरोना काल में भी सरकार खरीदे गए धान की अंतर राशि 665 और 685 रुपए प्रति क्विंटल बोनस के रूप में देकर वादा निभा रही है। वैश्विक महामारी के समय मे किसान अन्नदाताओं  से अपील है कि धान से मिले बोनस अंतर राशि से वैश्विक महामारी कोरोना से लड़ने के लिए मुख्यमंत्री सहायता कोष में 50 रुपये प्रति क्विंटल या यथाशक्ति अंशदान करें।
 
             विजय ने यह भी कहा कि बिना किसानों की सहयाता से हम कोरोना से जंग नहीं जीत सकते हैं। हमारे प्रधानमंत्री स्वर्गीय लालबहादुर शास्त्री के आह्वान पर किसानों ने जब मदद का हाथ बढ़ाया तो हम पाकिस्तान को 1965 के युद्ध में बुरी तरह से हराए। यदि किसानों ने यहां भी मदद का हाथ बढ़ाया तो दावा करता हूं कोरोना को ना केवल हारना होगा। बल्कि बाहर से आने वाले हमारे श्रमिक भाई बन्धुओं और माता बहनों के चेहरे पर जीत की मुस्कान नजर आएगी।
 
            विजय ने मार्मिक अपील में कहा किसानों के स्वैच्छिक सहयोग से  मुख्यमंत्री राहत कोष लबालब हो जाएगा। इस राशि से हम श्रमिक भाइयो के  सकुशल घर वापसी के समय मदद कर मानवता की नई ईबारत लिखेंगे।
 
            जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्षक्ष ने जिले के सभी ब्लॉक अध्यक्षों को निर्देश दिया है कि अपने-अपने ब्लॉक के बूथ अध्यक्ष  सेक्टर अध्यक्ष  और जो विभिन्न  किसान संघ किसान भाइयो के दरवाजे तक पहुंचे। और किसानों से आशीर्वाद मांगे।

गणेश भंवर मूर्ति का खुलासा..पुलिस पर पड़ गया भारी.. आरोपी के पिता ने लगाया गंभीर आरोप..इतना की मांग
Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS