जुहली में पानी के लिए त्राहि त्राहि…तालाब का गंदा पानी पी रहे ग्रामीण…महिलाओं ने बताया..सरपंच डरवाता है…अधिकारी सुनते नहीं

बिलासपुर— पानी गए न उबरे…मोती मानुष चून…रहीम ने दोहा में यही लिखा है। इस बार गर्मी कुछ ऐसी पड रही है कि अच्छे अच्छे लोगों का पानी उतर गया है। यहां तक की प्रशासन और सरपंंच का भी। वैसे तो पूरे प्रदेश में पानी को लेकर हाहाकार है। लेकिन इस बार पानी की समस्या बिलासपुर जिले में कुछ ज्यादा ही देखने को मिल रही है। यहां तक सुना गया कि लोग पानी खरीदकर पी रहे हैं। मस्तूरी विकासखंड के खम्हरिया में भी कमोबेश यही स्थिति है। क्षेत्र के अधिकांश जल स्रोत सूख चूके हैं। लोगों में पानी को लेकर हाहाकार है। ज्यादातर हेडपंप खराब होने से ग्रामीणों को निस्तारी का पानी भी नसीब नहीं हो रहा है।
                      शहर के बाहर जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में पानी की विकराल समस्या सुनने को मिल रही है। लोग रोज कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर पानी के लिए गुहार लगा रहे हैं। मस्तूरी विकासखण्ड के खम्हरिया में पानी के लिए त्राहि त्राही मची हुई है। ग्रामीण लोग निस्तारी के लिए भी पानी नसीब नहीं है। खम्हरिया क्षेत्र के ग्राम पंचायत जुहली स्थित डिपरापारा के लोग घर का सारा काम काज छोड़कर पानी तलाशने को मजबूर हैं।
कहीं नहीं हो रही सुनवाई
              जुहली पंंचायत के लोगों ने बताया कि पानी समस्या से परेशान होकर ग्रामीणों ने बाल्टी और बर्तन लेकर सरपंच का घेराव किया। बावजूद इसके पानी की समस्या आज भी जस की तस बनी हुई है। सरपंच से आश्वासन के बाद भी हैन्डपम्प बिगड़ा है। महिलाओं ने बताया कि गांव के लोग तलाब का गंंदा पानी पीने को मजबूर हैं। खबर होने के बाद भी सरपंच और पीएचई अधिकारी हाथ पर हाथ रखकर बैठे हैं। कलेक्टर से भी गुहार लगा चुके हैं लेकिन तकलीफ को सुनने के लिए कोई तैयार नहीं है।
 ग्रामीण और संरपच मे,तू तू,मै मै
                       लोगों ने बताया कि गांव में पानी की विकराल समस्या है। पानी समस्या और हैण्डपम्प बिगड़ने की शिकायत को लेकर संरपच से जमकर तू तू मै मैं भी हो चुकी है। गांव के रहने वाले दुर्गा प्रसाद, संजय दास,धनकुबर,रामजी, इन्द्रावन मेरावी,नंनकी यादव ने बताया कि सरपंच ने डिपरापारा मे कोई काम नहीं किया है। सरपंच कहता है कि डिपरापारा में काम भी नहीं करूंगा। सरपंच के अडियल रवैए से ग्रामीणों में आक्रोश और भय दोनो है।
अधिकारी ने बताया गड़बड़..सरपंच ने कहा समस्या नहीं
                     पानी समस्या और हैण्डपम्प बिगड़ने को लेकर पीएचई कर्मचारी प्रमोद कत्लनम ने बताया कि ग्राम पंचायत जुहली मे हेडपंप के खराब होने की शिकायत मिली है। जल्द ही हैण्डपम्प को ठीक कर लिया जाएगा। समस्या पर जुहली ग्राम पंचायत सरपंच ने बताया कि ग्राम पंचायत मे पानी की समस्या नहीं है। सभी हेडपंप ठीक स्थिति में है। डिपरापारा हेैंडपंप जरूर खराब है। उसे जल्द ही ठीक करा लिया जाएगा। कुछ लोग मेरे खिलाफ जबरदस्ती विवाद खड़ा कर बदनाम कर रहे हैं।
विश्व पर्यावरण दिवस आयोजन फ़ोटोआज दिनांक 05 जून 2019 को बिलासपुर वनमण्डल में विश्व पर्यावरण दिवस का आयोजन तीन स्थानों में क्रमशः कानन पेण्डारी जू , वनमण्डल कार्यालय एवं मैग्नेटो माल पर किया जाकर इस वर्ष का थीम *”वायु प्रदूषण”* को कम करने के उपाय व उससे होने वाले दुष्परिणामों की जानकारी दी गई।

कानन पेण्डारी जू में दोपहर बाद 4.00 बजे समस्त 104 कीपर एवं कार्यरत श्रमिकों एवं कर्मचारियों के द्वारा प्रति ब्यक्ति 5 पौधों का रोपण केजों के बाहर खाली जगहों पर रोपण कर उन पौधों की सुरक्षा व रखरखाव का कार्य करने का संकल्प मुख्य वन संरक्षक द्वय सर्वश्री एच.एल. रात्रे (मु.व.सं. बिलासपुर)एवं श्री पी.के.केसर (मु.व.सं. वन्य प्राणी बिलासपुर) की उपस्थिति एवं वन मंडलाधिकारी श्री संदीप बल्गा जी के नेतृत्व में लिया गया। इस अवसर पर कानन पेण्डारी के समस्त स्टाफ व कीपर के साथ पर्यटकों को विश्व पर्यावरण दिवस की महत्ता एवं वर्ष 2019 का थीम *”वायु प्रदूषण”* कम करने के उपाय के साथ मानव जाति के साथ ही साथ वन्यजीवों एवं अन्य वनस्पतियों पर पड़ने वाले दुश्प्रभावों के संबंध में विस्तार से जानकारी दी गई।
वनमण्डल बिलासपुर कार्यालय स्तर पर विभिन्न क्षेत्रों से आए वन कर्मियों के द्वारा वनमण्डल कार्यालय से प्रारंभ कर सत्यम चौक, पुराना बस स्टैंड, तेलीपारा रोड, सिटी कोतवाली से सदर होते हुए नेहरू चौक, कलेक्ट्रेट, शेफर स्कूल चौक आदि स्थानों पर से होते हुए फ्लेग मार्च की गई, एवं विश्व पर्यावरण दिवश के उपलक्ष में *”वायु प्रदूषण”* रोकने के संदेश के साथ पौध रोपण करने एवं स्थापित होने तक सुरक्षा व रखरखाव करने के सुझाव दिया गया। उक्त कार्यक्रम में श्री एच.एल.रात्रे मुख्य वन संरक्षक बिलासपुर द्वारा झंडा दिखा कर फ्लेग मार्च का शुभारंभ दोपहर 3.00 बजे किया गया। उक्त कार्यक्रम में लगभग 140 कर्मचारियों की उत्साह वर्धन हेतु मुख्य वन संरक्षक वन्य प्राणी श्री पी.के. केसर विशेष रूप से उपस्थित रहे।
वनमण्डल बिलासपुर द्वारा निकली गई जागरूकता रैली के अंत में रामामेगनेटो माॅल मे विश्व पर्यावरण दिवस विषय से संबंधित एक प्रश्नोत्तरी  व नृत्य कार्यक्रम का आयोजन भी सम्पन्न कराया गया जिसमे मुख्य अतिथि के रूप में वनमंडलाधिकारी बिलासपुर श्री संदीप बलगा व उप वनमंडलाधिकारी बिलासपुर श्री टी.आर.जायसवाल प्रतिभागियों की उत्साह वर्धन हेतु विशेष रूप से उपस्थित रहे । कार्यक्रम का नेतृत्व संजीवनी मार्ट बिलासपुर वनमण्डल के सिनीयर एक्जीक्यूटिव श्री संजय चौबे व परिक्षेत्र सहायक श्री जितेन्द्र साहू द्वारा किया गया। कार्यक्रम के अंत में क्वीज कम्पीटिशन में विजयी प्रतिभागियों  को पुरस्कृत किया गया तथा समस्त इवेंट में शामिल प्रतिभागियों को एक दिवस कानन पेण्डारी जू में नि:शुल्क भ्रमण की घोषणा वनमण्डलाधिकारी बिलासपुर द्वारा की गई।
@क्षेत्र में हर गांव की कहानी यहीं है जुहली के डिपरापारा मे तीन हेडपंप है और तीनों खराब है संरपच एंव पीएचई विभाग इस ओर ध्यान नहीं दे रहे हैं,,,,,,
*हेडपंप खराब गहराया पेयजल संकट, सरपंच बेखबर ग्रामीण चिंतित*
—————————————————–
    खम्हरिया संवाददाता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *