जोगी के मांद में भूपेश की दहाड़…जमकर झूमें कांग्रेसी

Join WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

20160602_143415(1)बिलासपुर— राजनीति की बिसात अजीब है। शह माहत…चेक मेट के बीच बहुत नाटकीय घटनाक्रम देखने को मिलता है। कब कहां कौन किसको चेक मेट दे..राजनीति में विश्वास के साथ कह पाना मुश्किल है। आज प्रदेश में शतरंज की राजनीति पर मोहरों ने जमकर शह और मात का खेल दिखाया। जोगी ने भूपेश के क्षेत्र में नई पार्टी बनाने का एलान किया। भूपेश ने पूर्व मुख्यमंत्री के मांद में जोगी को अंहकारी और भितरघाती नेता बताया। दूसरी तरह मुख्यमंत्री रमन सिंह के घर में मरवाही विधायक ने भूपेश को जनाधारहीन और कमरे में बैठकर पार्टी को बीसी की तरह चलाने वाला नेता कहा।

                          इत्तफाक है जब जोगी भूपेश के क्षेत्र में कांग्रेस, प्रदेश नेतृत्व और टीएस की लानत मलानत कर रहे थे। ठीक उसी समय जोगी के गृहजिले में भूपेश अपने समर्थकों के साथ पत्रकारों को जोगी की अंतागढ़ स्टोरी सुना रहे थे। भूपेश ने जोगी को प्रत्याशी बेचने वाला घृणित नेता बताकर कार्यकर्ताओं को बाग बाग कर दिया। भूपेश ने जोगी को विधानसभा चुनाव में पार्टी के भीतर भाजपा का एजेंट नेता बताया।  भूपेश ने बताया कि जोगी मुख्यमंत्री के इशारे पर ही पार्टी बनाने का एलान किया है। कहानी सुनाने के दौरान भूपेश बघेल काफी विश्वास मे और कार्यकर्ता काफी उत्साहित नजर आए।

                           इसके पहले बिलासपुर पहुचने पर कांग्रेसियों ने भूपेश बघेल का समुराई योद्धा की तरह स्वागत किया। पत्र वार्ता से पहले और बाद में फूल माला फहनाने वालों की जबरदस्त होड़ देखने को मिली। बहुत दिनों बाद विखरी हुई कांग्रेस पार्टी एक नजर आयी। सीनियर नेताओं में युवाओं से ज्यादा जोश देखने को मिला। भूपेश बघेल ने करीब एक घण्टा बिलासपुर को दिया। इस दौरान जोगी के मांद में भूपेश के स्वागत में एक ही नारा गूंजता रहा..छत्तीसगढ़ का कौन खेवय्या…भूपेश भैया..भूपेश भैया। जोगी के पार्टी बनाने के एलान और भूपेश के बिलासपुर आगमन पर हासिए खड़े और उपेक्षित नेताओं को भी आज कांग्रेस भवन में देखा गया।

रतनपुर में राइट टू कॉल...नगर पालिक परिषद अध्यक्ष के होगा भाग्य का फैसला...3 दिन बन्द रहेंगी शराब दुकानें
READ

                                    बिलासपुर प्रवास के दौरान जितना आत्मविश्वास भुपेश में नजर आया उससे कहीं ज्यादा युवाओं और प्रथम पंक्ति स्थानीय नेताओं में आत्मविश्वास देखने को मिला। सभी लोग भूपेश के साथ फोटो खिचवाते नजर आए। भूपेश ने भी किसी को नाखुश नहीं किया। भूपेश बघेल ने भी आग बरसाते आसमान के नीचे कांग्रेस भवन के सामने जमकर आतिशबाजी का आनंद लिया। बहुत दिनों बाद कांग्रेस कार्यालय में अंतहीन पटाखों की गूंज को दूर तक सुना गया। नारेबाजी से परहेज करने वाले भूपेश कार्यकर्ताओं की पीठ पूरे समय थपथपाते रहे। पीठ पर थपकी लेने का किसी भी नेता ने अवसर नहीं छोडा। इस दौरान जोगी से छुटकारा मिलने पर मिठाई का भी वितरण किया। भूपेश बघेल ने भी कुशल समुराई योद्धा की तरह कार्यकर्ताओं का उत्साहवर्धन किया।

                                 वरिष्ठ कांग्रेस नेता आशीष सिंह. पीसीसी महामंत्री अटल श्रीवास्तव,ग्रामीण कांग्रेस अध्यक्ष राजेन्द्र शुक्ला,शहर कांग्रेस अध्यक्ष नरेन्द्र बोलर,संभागीय कांंग्रेस प्रवक्ता अभय नारायण राय के चेहरे पूरे समय तक यही बताया कि अंतहीन युद्ध का समापन हो चुका है। समुराई ने जोगी को सबक सिखा दिया है।  जोश और खरोश लवरेज सीनियर कांगेस नेता बैजनाथ चन्द्राकर, अर्जुन तिवारी ने नारेबाजी में युवाओं को ना केवल मात दिया। बल्कि बाडी लैंग्वेज से जाहिर किया कि कांग्रेस का आत्मविश्वास को अब कोई नहीं डिगा सकता है।

                        कांग्रेस सचिव पंकज सिंह,निगम नेता प्रतिपक्ष शेख नजरूरद्दीन, पार्षद दल प्रवक्ता शैलेन्द्र जायसवाल,युवा नेता राजेन्द्र साहू,शिवबालक कौशिक,हरमेन्द्र शुक्ला,सुभाष सिंह,कुन्दन कामले, प्रमोद नायक,पिनल उपवेजा,मणि वैष्णव,ऋषि पाण्डेय के चेहरे आज उत्साहित नजर आए। सभी कांग्रेसी भूपेश बघेल को एक पल के लिए भी नहीं छोड़ा।

रेणु जोगी ने किया शुभम् का अभिनंदन
READ