हमार छ्त्तीसगढ़

जोगी टीम भी करेगी…मौत की जांच

3 (2)रायपुर…अमित जोगी ने शासन और प्रशासन पर तानाशाही का आरोप लगाया है। उन्होने कहा है कि लोकतंत्र में आवाज़ उठाने वालों को पीट पीट कर मार दिया जाता है। जांजगीर के नरियरा गांव में दलित युवक सतीश कुमार को  पीट-पीट कर मार डाला गया। क्योंकि उसने आठ दिनों से ख़राब पड़े ट्रांसफार्मर के खिलाफ आवाज बुलंद किया था।

                      अमित जोगी ने सतीश नारंगे की मौत पर सोमवार को जांजगीर जिला बंद करने का एलान किया है। जोगी ने युवक के परिजनों से मिलने के बाद जिला कलेक्टर और एसपी से भी बातचीत की है। अधिकारियों से मिलने के बाद जोगी ने पत्रकारों से बताया कि जिला प्रशासन मामले में लीपापोती करने का प्रयास कर रही है। छजकां के दबाव के बाद आज रोजनामचा दर्ज किया गया है। अमित जोगी ने कहा कि दोषी अधिकारीयों पर हत्या का मामला चलाया जाना चाहिए। मृतक सतीश के परिवार के सदस्य को नौकरी के साथ 50 लाख रुपये बतौर मुआवजा मिलना चाहिए।

                         अमित जोगी ने कहा कि आम जनता प्रशासनिक गुंडागर्दी से परेशान है। छत्तीसगढ़ में 2013 से 2014 के बीच अनुसूचित जाति अत्याचार के मामलों में 340 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। शर्मसार कर देने वाली बात है।

छजकां करेगी जांच

छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस के संस्थापक अजीत जोगी ने नारंगे मौत की जांच के लिए टीम का गठन किया है। चार सदस्यीय टीम का अध्यक्ष डी.पी.धृतलहरे को बनाया गया है। टीम में धृतलहरे के अलावा पूर्व विधायक चन्द्रभान बारमते,पप्पू बघेल और उदय चरण बंजारे को शामिल किया गया है। जोगी ने चार सदस्यीय टीम को दो दिनों के भीतर रिपोर्ट देने को कहा है।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS