मेरा बिलासपुर

जोगी ने कहा-कांग्रेस भाजपा में महागठबंधन–दम हो तो सोनिया पर करेंं एफआईआर

amit_jogiरायपुर—मरवाही विधायक अमित जोगी नेकांग्रेस पार्टी की बयानबाजी पर नाराजगी जाहिर की है। जोगी ने आरोप लगाया है किकांग्रेस ने बिना पढ़े रमन पॉवर  छानबीन समिति की रिपोर्ट को कैसे सही मान लिया। इसका मतलब है कि भाजपा-कांग्रेस महागठबंधन को मालूम था कि रिपोर्ट में क्या लिखा है।

            रिपोर्ट में सच्चाई है तो कांग्रेस को न केवल अजीत जोगी के ख़िलाफ़ बल्कि राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी के खिलाफएफ़॰आई॰आर॰ दर्ज कराना चाहिए। उन्हें  जेल भेजना चाहिए। पिछले 16 सालों से उन्होंने होशो हवास में अजीत जोगी को अधिकृत रूप से एक आदिवासी मानकर  जिम्मेदारियां दी थीं। अजीत जोगी  कांग्रेस पार्टी छोड़ने तक राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी के आदिवासी विभाग के अध्यक्ष रहे।

                           अमित जोगी ने कहा कि सोनिया गाँधी ने 2000 में दिग्विजय मंत्रिमंडल से जोगी के आदिवासी नहीं होने की लिखित में झूठी और मनगंढत शिकायत  को खारिज कर दिया था। सोनिया गांधी ने दिग्विजय सिंह को दिल्ली बुलाकर कहा था कि अजीत जोगी काबिल और अनुभवी आदिवासी नेता हैं। आदिवासी बाहुल्य प्रदेश का मुख्यमंत्री आदिवासी को ही बनाया जाना चाहिए। सोनिया गांधी के निवास स्थान में रखा रिकॉर्ड दिग्विजय सिंह भी झुठला नहीं सकते हैं।

                    अमित जोगी ने प्रेस नोट जारी कर बताया है कि मरवाही और रायगढ़ लोक सभा के लाखों आदिवासी मतदाताओं ने प्रदेश भाजपा अध्यक्ष, नेता प्रतिपक्ष और राष्ट्रीय आदिवासी आयोग के अध्यक्ष जैसे स्वयंभू आदिवासी नेताओं को अजीत जोगी ने हराया है। आदिवासी भाइयों अजीत जोगी को एक नहीं बल्कि पांंच बार रिकार्ड मतों से जिताया है । भाजपा-कांग्रेस महागठबंधन, क्या जनादेश को झूठला सकता है।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS