मेरा बिलासपुर

जोगी ने प्रशासन पर फेंक दी चूड़ियां…लाठीचार्ज में तीन घायल

IMG20170213154935 IMG20170213152845बिलासपुर—अजीत जोगी की अगुवाई में ममता खाण्डेकर के आरोपियों को पकड़ने की मांग को लेकर नेहरू चौक में धरना प्रदर्शन किया गया। इस दौरान  छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस कार्यकर्ताओं को पूर्व मुख्यमंत्री ने संबोधित किया। धरना प्रदर्शन के बाद जोगी कीर अगुवाई में कार्यकर्ताओं ने नेहरू चौक से कलेक्टर कार्यालय की तरफ कूच किया। इस दौरान सुरक्षा व्यवस्था जमकर देखने को मिली। कलेक्टर कार्यालय के सामने प्रदर्शनकारियों पर हल्का बल प्रयोग के साथ लाठी चार्ज किया गया। वाटरकेन से भीड़ को तितर बितर का प्रयास किया गया। लाठी चार्ज के दौरान तीन महिलाओं को चोट पहुंची। सभी को सिम्स में भर्ती कराया गया।

                      कलेक्टर कार्यालय के सामने जोगी और उनके समर्थकों को रोकने का पुलिस ने असफल प्रयास किया। हजारों कार्यकर्ताओं के हुजूम ने पुलिस बेरिकेट को तोड़ने का प्रयास किया। इस दौरान पुलिस प्रशासन को कार्यकर्ताओं के खिलाफ जमकर पसीना बहाना पड़ा। भीड़ को नियंत्रित करने पुलिस ने वाटर केन के साथ हल्का बल प्रयोग और लाठी चार्ज किया। बावजूद इसके जोगी जनता कांग्रेस कार्यकर्ताओं का मनोबल नहीं टूटा। बल्कि पुलिस की सुरक्षा तंत्र पूरी तरह से चौपट हो गयी।

                           जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ प्रमुख की अगुवाई में सैकड़ों कार्यकर्ता कलेक्टर परिसर के मुख्यगेट तक पहुंच गये। इस दौरान पूर्व विधानसभा उपाध्यक्ष धरमजीत सिंह,अनिल टाह,वाणी राव सियाराम कौशिक, शहजादी कुरैशी, ज्ञानेन्द्र उपाध्याय, समेत नामचीन जोगी समर्थक हाथ में चूड़ी लेकर जिला प्रशासन और सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। प्रभारी पुलिस कप्तान प्रशांत कतलम से जोगी ने कहा कि हमें रोकने की कोशिश कोई ना करे। कलेक्टर के टेबल पर चूड़ी रखना है।

भारी पड़ा ट्रीटमेन्ट प्लान्ट लोकार्पण का विरोध...48 कांग्रेसी गिरफ्तार...3 घंटे बाद तोरवा थाना से रिहा

                      लोगों की उपस्थिति में जोगी ने प्रशांत कतलम और सीएसपी लखन पटले से कहा कि हमें आश्वासन दिया जाए कि ममता के हत्यारों को कब तक गिरफ्तार कर लिया जाएगा। लेकिन पुलिस समय IMG20170213152754बताने में कामयाब नहीं हो पायी। प्रशांत कतलम ने अजीत जोगी से कहा कि आरोपियों को जल्द ही पकड़ लिया जाएगा। संदेहियों से पूछताछ हो रही है। जोगी ने कहा कि शायद सात दिन या पन्द्रह दिन में आरोपियों को पकड लिया जाएगा। लेकिन पुलिस अधिकारियों ने कुछ नहीं कहा।

                                       इस बीच जोगी समर्थकों ने ताला तोड़कर कर पूर्व मुख्यमंत्री के साथ कलेक्टर कार्यालय परिसर में घुस गए। सभी नेता हाथों की चूडी पुलिस अधिकारियों को दिया। कलेक्टर के टेबल पर रंगबिरंगी चूड़ी रखकर पुलिस और जिला प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की।जोगी ने ज्ञापन देने से इंकार करते हुए कहा कि जिला प्रशासन को शर्म आनी चाहिए जब एक गरीब की लड़की के हत्यारों को नहीं पकड़ पा रही है। जोगी ने पुलिस और जिला प्रशासन पर शराबमाफियों के इशारे पर काम करने का आरोप लगाया।

                                             सियाराम कौशिक शहजादी कुरैशी ने जोगी को बताया कि लाठीचार्ज के दौरान तीन महिलाओं को चोट लगी है। ममता हत्या और बलात्कार काण्ड में शराब ठेकेदार को छोड़कर ग्रामीणों को बेवजह परेशान किया जा रहा है। महिलाओं के साथ पुलिस गाली गलौच करती है। देर सबेर पूछताछ के लिए बुलाती है। जबकि शराब ठेकेदार के पण्डों से किसी प्रकार की पूछताछ नहीं की जा रही है।

                     पुलिस अधिकारियों को जोगी ने फटकार लगाते हुए कहा कि महिला और गरीबों के साथ अत्याचार बर्दास्त नहीं किया जाएगा। गांव की भोली भाली जनता को परेशान करने वालों को नहीं छोड़ा जाएगा। जोगी ने पुलिस अधिकारियों को बताया कि दोषियों को पकड़ों। गांव की सीधी साधी जनता ममता के दुख में टूट चुकी है। आखिर कब तक दोषियों को सरकार बचाएगी।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS