मेरा बिलासपुर

जोगी ने मांगा दो सौ करोड़ का हिसाब

jogi-13रायपुर—पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने अडानी के 200 करोड़ जुर्माना माफी पर कटाक्ष करते हुये कहा कि आम चुनाव के दौरान नरेन्द्र मोदी का दिया गया दावा और नारा गलत साबित हुआ है। इस समय सरकार का नारा है.अबकी बार उद्योगपतियों की सरकार। केंद्र की भाजपा सरकार ने साबित कर दिया कि ये सरकार अडानी और अंबानी की है।

जोगी ने कहा कि सरकार ने किस हैसियत से जुर्माना माफ किया। इसकी जांच जरूरी है। ये पैसा देश की जनता का है। टैक्स के रूप में वसूला गया पैसा है। मोदी सरकार इतनी ही दयालु है तो किसानों को बोनस दे और कर्ज माफ करें। छोेटे उद्योगों का कर्ज माफ करे। कर्ज में दबा किसान आत्महत्या कर रहा है। मंदी और  कर्ज की मार झेल रहे छोटे उद्योग बंद हो रहे हैं। केन्द्र चहेते उद्योगपतियों को उपकृत कर रहा हैं। इसकी भरपायी देश के लोगों को करना पड़ेगा।

जोगी ने कहा कि देश पहले ही 11 सौ करोड़ रूपये के विदेशी कर्ज से दबा है।इस निर्णय ने साबित कर दिया कि मोदी सरकार जुमलों की सरकार है। जुमलेबाजी में ही अब तक 11 सौ करोड़ रूपए खर्च कर हो चुका है। देश की जनता अपने निर्णय पर पछता रही है। जोगी ने केन्द्र सरकार से मांग करते हुये कहा कि यदि माफ करना है तो किसानों का कर्ज माफ करें। उन्हें बोनस दें ताकि किसान आत्महत्या के लिए विवश न हो। यदि सरकार ने किसानों और छोटे उद्योगपतियों का कर्जा माफ नहीं किया तो भाजपा को जनता कभी माफ नहीं करेगी।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS