मेरा बिलासपुर

ठगी के शिकार पीड़ितों ने की शिकायत

civil line p.s.बिलासपुरृृृृ—बेरोजगारों को शिक्षा विभाग में चपरासी की नौकरी लगाने का झांसा देकर सैकडो लोगो से ठंगी करने वाले मनीष राव वासिंग की तलाश मस्तूरी पुलिस ने तेज कर दी है। आज कुछ युवको ने सिविल लाइन थाने पहुंचकर मनीष राव वासिंग और मनीषा साहू को पकडने की गुहार लगाई है।

कुदुदण्ड निवासी मनीष राव वासिंग मस्तूरी में शिक्षाकर्मी के पद पर रहते हुए क्षेत्र में कई बेरोजगारों से चपरासी की नौकरी लगाने का झांसा देकर करोडो रुपये ऐंठने की शिकायत है। मनीष वासिंग इस समय फरारी काट रहा है। ठगी में साथ देने वाली मनीषा साहू की भी पुलिस को तलाश है। ठगी की शिकार पीडितो की सूची अब और लम्बी हो गयी है। आज सिविल लाइन थाने में तीन युवकों ने मनीष राव वासिंग और मनीषा साहू के खिलाफ नौकरी लगाने के नाम पर छोखाधडी की शिकायत दर्ज कराई है।

रवि शंकर मानिकपुरी बिलासपुर जेल कालोनी ने लिखित आवेदन में कहा है कि वह मनीष राव के घर में जाकर ढेड़ लाख रूपये नौकरी के लिए दिए थे। शिक्षा विभाग में चपरासी की नौकरी के लिए सीपत निवासी नवीन पटेल ने भी ठगी की शिकायत की है। युवको ने बताया कि 2013 में मनीष राव वासिंग के घर जाकर उसने रूपया दिया है। लेकिन आज तक उसे नौकरी नहीं मिली। सिविल लाइन पुलिस ने मामले में शिकायत दर्ज कर जांच की बात कह रही है।

मालूम हो की पहले भी मनीष राव वासिंग और मनीषा साहू के खिलाफ मस्तूरी ब्लाक के ग्रामीणो ने कलेक्टर और शिक्षा सचिव को लीखित में शिकायत दर्ज कर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई और रूपए की मांग की थी। वीडियो कांफ्रेसिंग से शिक्षा सचिव ने कलेक्टर अन्बलगन पी. और  मस्तूरी थाना प्रभारी एन एल धृतलहरे को फटकार लगाते हुए मनीष राव वासिंग और मनिषा साहू को जल्द पकडने का फरमान जारी किया था। लेकिन मस्तुरी पुलिस ने अब तक गिरफ्तारी नही की है।

बिलासपुर विश्वविद्यालय का जंगी घेराव..काली पट्टी बांधकर प्रदर्शन...अब उग्र आंदोनल की तैयारी

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS