ठेले पर मोटरसायकल को घसीटा..युवा कांग्रेस का अनोखा प्रदर्शन…कहा..हिम्मत हो तो पेट्रोल डीजल पर लगाएं GST

बिलासपुर—पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों में वृद्धि, बढ़ती महंगाई के खिलाफ युवा कांग्रेस नेताओं ने गोलबाजार से देवकीनन्दन चौक के बीच ढेला पर मोटर सायकल लाद कर धकेला। हाथ में पोस्टर लेकर रैली के दौरान सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। युवा कांग्रेसियों ने इस दौरान कहा कि यदि सरकार जनता को महंगाई से राहत दिलाना चाहती है तो तत्काल पेट्रोल-डीजल को जीएसटी में शामिल करने का प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजे।

                                      पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों में वृद्धि, बढ़ती महंगाई के खिलाफ युवा कांग्रेस नेताओं ने अनोखा विरोध किया है। युवा कांग्रेसियों ने ढेले पर मोटरसायकल लादकर गोलाबाजार से देवकीनन्दन चौक तक घसीटा। इस दौरान युवा कांग्रेसियों के हाथ में पोस्टर भी थे। बीच बीच में सरकार के खिलाफ जमकर नारबाजी भी कर रहे थे।

             युवा कांग्रेस नेता गोपाल दुबे और जावेद मेमन ने बताया कि पेट्रोल डीजल के दामों में बेतहासा बृद्धि से पूंजीपतियों को छोड़कर देश के एक परिवार का जीना हराम हो गया है। प्रदेश सचिव जावेद मेमन ने बताया कि कर्नाटक चुनाव के तत्काल बाद पेट्रोल-डीजल की कीमत में बेतहाशा वृद्धि हुई ह। सरकार ने आम लोगों का जीना मुश्किल कर दिया है। जनता को जानबूझकर निशाना बनाया जा रहा है। पेट्रोल डीजल के दामों में बृद्धि से अब घर का चूल्हा ही नहीं बल्का घर में ही आग लग गयी है। बसों के भाड़े बढ़ गये हैं। खाने-पीने की वस्तुऐं महंगी हो गयी हैं। पिछले छह महीने में पेट्रोल तकरीबन आठ और डीजल ग्यारह रूपये तक बढ़ गया है। ऐसा लग रहा है कि मोदी सरकार कर्नाटक में हुई भाजपा की हार का बदला जनता से ले रही है।

                          जिला महासचिव गोपाल दुबे ने कहा कि जब यूपीए सरकार केन्द्र में थी तो भाजपा नेताओं ने सायकल की सवारी कर पेट्रोल डीजल मूल्य बृद्धि का विरोध किया था। गोपाल दुबे ने रमन सरकार पर आरोप लगाया कि छत्तीसगढ़ में पेट्रोल-डीजल पर उत्पाद शुल्क से लेकर अतिरिक्त कर और सेस सबसे ज्यादा लिया जा रहा है। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में क्रूड आईल की कीमत यूपीए सरकार की तुलना में बहुत कम है।  बावजूद इसके आम लोगों की जेब की जेब पर कैंची चलाई जा रही है। गोपाल ने भाजपा सरकार के मंत्रियों से सवाल किया है कि क्या अब मुख्यमंत्री और उनके मंत्री साईकिल से सचिवालय की सवारी नहीं करना चाहेंगे।

                           गोपाल ने सवाल किया है कि कांग्रेस शासनकाल के समय पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ने पर बैलगाड़ी और साईकिल चलाकर विरोध करने वाले भाजपा नेता रमनसिंह और बृजमोहन अग्रवाल अब कहां गायब हो गये हैं? क्या अब उन्हें जनता की चिंता नहीं है?  जनता रमन सिंह, उनके मंत्रियों और उनकी साईकिलों को ढूंढ रही है। रमनसिंह और बृजमोहन अग्रवाल को यदि जनता की वास्तव में चिंता है तो पेट्रोल और डीजल की कीमतों को देखते हुए प्रतिदिन साईकिल से  सचिवालय जाना चाहिए।

जीएसटी में शामिल करने की मांग

                युवा काग्रेंसियों ने  केंद्र सरकार से पेट्रोल-डीजल की मूल्य वृद्धि खिलाफ जनता को राहत देने की मांग की है। युकां नेताओं ने पेट्रोल डीजल को जीएसटी में शामिल कर ‘‘वन नेशन, वन टेक्स’’ स्लोगन को पूरा करने की भी मांग की है। प्रदर्शन के दौकान युवा कांग्रेसियों ने कहा कि यदि मुख्यमंत्री जनता को महंगाई से सच में राहत दिलाना चाहते हैं तो तत्काल पेट्रोल-डीजल को जीएसटी में शामिल करने का प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजे। यद जानते हुए भी कि केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री कई बार कह चुके हैं कि राज्य सरकारें यदि प्रस्ताव भेजेंगी तो पेट्रोल-डीजल को जीएसटी में शामिल किया जायेगा।

                          इस दौरान दर्जनों प्रदर्शनकारी कांग्रेसियों ने कहा कि पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों ने भाजपा की जनविरोधी चरित्र को उजागर कर दिया है। अनोखी रैली में युवा कांग्रेस प्रदेश सचिव जावेद मेमन , लष्मीनाथ साहू जिला उपाध्यक्ष आशीष गोयल, जिला महासचिव गोपाल दुबे,विनय वैद्य,हीरा यादव दिनेश चंदानी,वक़ार खान विधानसभा महासचिव ऋषि कश्यप,मो.अयाज़.मो.आक़ीब,निखिल चिल्चोलकर,नवीन गोयल , आई टी सेल से मणि वैष्णव N.s.u.i के वशीम खान अंकित भिसेन राज यादव विशेश रूप से मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *