मेरा बिलासपुर

तालाब गहरीकरण में गड़बड़ी की शिकायत

SHIKAYAT_VISUAL

बिलासपुर— जनपद पंचायत बिल्हा ग्राम गुमा के ग्रामीणों ने मनरेगा उपयंत्री और कार्यक्रम अधिकारी के खिलाफ प्रभारी कलेक्टर और जिला परियोजना अधिकारी से शिकायत की है। ग्रामीणों और कोटवार का कहना है कि उपयंत्री खाण्डेकर और कार्यक्रम अधिकारी बिना किसी आधिकारिक सूचना के मनरेगा के तहत तालाब गहरीकरण का आदेश जारी कर दिया है।

गुमा गांवे के निवासियों ने आज प्रभारी कलेक्टर और जिला परियोजना अधिकारी से मिलकर जनपद पंचायत कार्यक्रम अधिकारी और उपयंत्री की शिकायत की है। ग्रामीणों ने बताया कि शासन से अभी तक मनरेगा का वर्क आदेश नहीं आया है। बावजूद इसके उपयंत्री खाण्डेकर और कार्यक्रम अधिकारी गुमा तालाब गहरीकरण का आदेश जारी कर दिया है।कोटवार ने बताया कि उपयंत्री खाण्डेकर ने गांव में मुझसे दबाव डालकर  मुनादी करवाया है।

कोटवार ने बताया कि गुमा गांव का गहरीकरण का प्रस्ताव लम्बे समय से है। मुख्यकार्यपालन अधिकारी ने ग्रामीणों को बताया था कि तालाब का गहरीकरण मनरेगा के तहत किया जाएगा। जानकारी के अनुसार के अभी तक वर्क आर्डर नहीं आया है लेकिन उपयंत्री ने मुनादी करवा दिया है। गांव वाले अब मुझ पर काम के लिए दबाव डाल रहे हैं। जिसके चलते उसका दिन रात की नींद उड़ गयी है। वहीं जब मैं अपनी परेशानी लेकर उपयंत्री के पास जाता हूं तो वह कहते हैं जल्दी ही काम शुरू होगा। जबकि जिला पंचायत के अधिकारी कहते हैं कि अभी वर्क आर्डर नहीं आया है ।

गुमा ग्राम पंचायत सरपंच ने बताया कि ग्रामीण लगातार उनके घर आ रहे हैं। जान से मारने की धमकी देते हैं। जिसके चलते उसका घर से निकलना मुश्किल हो गया है।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS