तीन मार्च को पेश होगा छत्तीसगढ़ सरकार का नया बजट,प्रदेश के सहायक शिक्षकों को है सरकार से ये उम्मीदें

बिलासपुर।3 मार्च को छत्तीसगढ़ का बजट 2020 विधानसभा में पेश होना है। जिसे लेकर प्रदेश के कर्मचारियों को कई उम्मीदें है। छ ग सहायक शिक्षक फेडरेशन के प्रदेश अध्यक्ष मनीष मिश्रा ने प्रेरे नोट जारी कर बताया कि हमे पुरा विस्वास है कि हजारो सहायक शिक्षको के साथ न्याय होगा मांगे बजट में पूरी होगी।  वेतन विसंगति की मांग को लेकर सहायक शिक्षक संविलियन के बाद से मुखर रहा है। सही मायने में अगर देखा जाए तो आज सहायक शिक्षक जो विगत 22 वर्ष से एक ही पद पर कार्य कर रहे है उनको इस बजट को आशा भरी नजरों से देख रहे है वही संविलियन से वंचित साथीयो को भी इस बजट पर उम्मीद है ।

मनीष मिश्रा ने बताया कि लगातार सहायक शिक्षक फेडरेशन हर मंच पर वेतन विसंगति सहित अपनी चार सूत्रीय मांग को उठाते आ रहा है ।हमे अब तक महज आस्वासन ही मिल रहा है परंतु राज्य के मुख्यमंत्री  ने हम सबको विस्वास दिलाया था कि आगामी बजट में सहायक शिक्षको की समस्याओं का निराकरण किया जाएगा और राज्य के मुखिया से मिले मजूबत आस्वासन से हमे अब पूरा विस्वास है कि आगामी बजट में हमारे हक में बेहतर निर्णय लिया जाएगा।

मनीष ने बताया कि सहायक शिक्षक फेडरेशन सही मायने में सहायक शिक्षको की समस्याओं के निदान के लिए पूरी ईमानदारी से कार्य कर रहा है फेडरेशन ने लगातार एक साल से वेतन विसंगति के निदान के लिए जोरदार मुहिम चलाई है जिसका परिणाम है कि आज प्रदेश सरकार वेतन विसंगति सहित हमारी सभी मांग पर चिन्तन कर रही है। राज्य सरकार के जनघोषणा पत्र के वायदों में दो अहम वायदा को पूरा करने का समय आ गया है।

प्रदेश का एक लाख नौ हजार सहायक शिक्षक आज राज्य सरकार को विस्वास भरी निगाह से देख रहा है।सरकार को चाहिए कि शिक्षा के लिए धरातल पर कार्य करने वाले सहायक शिक्षको के साथ न्याय करे और 22 साल से एक पद पर कार्य कर रहे सहायक शिक्षको को उच्चतर वेतनमान की सौगात देकर अपने वायदों को पूरा करे।

Comments

  1. By SK

    Reply

  2. By SK

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *