थानेदार पर रिश्वत मांगने का आरोप

sirgiti psबिलासपुर–सिरगिट्टी थाना प्रभारी राहुल तिवारी पर खनूजा ने दो लाख रिश्वत मांगने का आरोप लगाया है। खनूजा के अनुसार चेक बाउंस होने पर सिरगिट्टी पुलिस ने घर पहुंचकर उसे हिरासत में लिया। पुलिस के दो जवानों ने उससे दस हजार रूपए भी छीन लिये। गिरफ्तारी से बचने के लिए थाना प्रभारी राहुल तिवारी ने दो लाख रूपए मांगा। आज पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचकर सुरेन्द्र खनुजा ने शिकायत की है।

                          सिरगिट्टी स्थित सुरेन्द्र खनुजा ने थाना प्रभारी राहुल तिवारी पर दो लाख रूपए रिश्वत मांगने का आरोप लगाया है। खनुजा ने बताया कि बताया कि रेलवे कालोनी में रहने वाले मनोज कुमार को उसने तीन लाख रूपए उधार दिये थे। उसने नियत समय पर रूपए नहीं लौटाए। उसने जब मनोज से रूपए की मांग कि तो उसने तीन लाख रूपए का चेक दिया। मनोज के खाते में रूपए नहीं होने के कारण चेक बाउंस हो गया। इसी बात को लेकर सुरेन्द्र ने कोर्ट में एक आवेदन लगाया है।चेंक बाउंस होने के बाद मनोज ने सिरगिट्टी थाने में मेरे खिलाफ शिकायत की।                      सुरेन्द्र के अनुसार मामले में जांच अधिकारी थाना प्रभारी राहुल तिवारी ने एक दिन पहले पूछताछ के लिए थाना बुलाया। दो आरक्षकों को मेरे घर भेजा।दोनों ने बलपूर्वक उसे पुलिस गाड़ी में बैठाया और जेब से दस हजार रूपए भी लूट लिये। थाना पहुंचने पर राहुल तिवारी ने धमकाते हुए दो लाख रुपये की मांग की। रूपए नहीं देने पर जेल भेजने की धमकी भी दी।                         सुरेन्द्र सिंह के अनुसार रात को जब उसके परिजन थाना पहुंचे तो प्रभारी ने सुरेन्द्र को जल्द से जल्द रकम देने की बात कही। झूठे मामले में फसाने की धमकी से परेशान सुरेन्द्र सिंह ने आज पुलिस कप्तान मंयक श्रीवास्तव से मामले की शिकायत करने पहुचा। एसपी से मुलाकात नहीं होने पर सुरेन्द्र सिंह घर वापस लौट गया।                         सुरेन्द्र सिंह के आरोप को नकारते हुए थाना प्रभारी राहुल तिवारी ने बताया कि उसे फंसाने का प्रयास किया जा रहा है। राहुल ने कहा कि वह इस मामले में किसी भी जांच के लिए तैयार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *