दिनेश पर सवार होती है मां काली

बिलासपुर—ईश्वर के प्रति स्नेह और आस्था प्रकट करने के अनेकों माध्यम हैं। देवी देवताओं पर आस्था रखने वाले लोग नाना प्रकार से खुश करने का प्रयास करते हैं। सुख समृद्धि के लिए आशीर्वाद लेते हैं। कभी यज्ञ तो कभी तपस्या के माध्यम से अपने ईष्ट देवता को मनाते हैं। ऐसा भी देखा गया है कि कुछ भक्त देवी-देवताओं का रूप धारण कर कुछ ऐसी हरकतें करते हैं जिसके कारण लोगों का ध्यान बरबस ही खीच लेता है। लोग फिर उस व्यक्ति में ही भगवान को ढ़ूंढ़ने लगते हैं।

                         बिलासपुर के तखतपुर में नवरात्र के सप्तमी पर देर रात तक कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिला। दिनेश निर्मलकर मां काली का रूप धारण कर पूरे गांव में घूमता है। सैकड़ों की संख्या में लोग उसके पीछे-पीछे दौड़ते हैं। स्थानीय लोगों की माने तो और दिनेश बांकी दिनों में सामान्य रहता है लेकिन नवरात्र के दिनों में उसके ऊपर साक्षात मां काली की कृपा होती है। इस दिन दिनेश सबकुछ भूलकर घंटों काली का रूप धारण कर दौड़ता रहता है। प्रहसन करता है। भाव भंगिमा मां काली की तरह रखता है। लोग उसे मां काली के रूप में पूजते हैं।

                                  लोगों ने बताया कि दिनेश की आस्था को देखने लोग दूर-दूर से तखतपुर पहुंचते हैं। स्थानीय लोगों का मानना  है कि जिसने भी दिनेश के काली रूप के दर्शन किया। उसकी मनोकामना जरूर पूरी होती है। इस दिन का लोगों को बेसब्री से इंतजार भी रहता है। दिनेश को संभालने के लिए पुलिस प्रशासन को भी खासी मशक्कत करनी पड़ती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *