दिव्यांग बच्चों ने जीता दिल…बुजुर्गों ने दिखाया कमाल…अतिथियों ने कहा… टीम ने सोई संवेनाओ को जागाया

बिलासपुर—-कल्याण कुंज वृद्धाश्रम में एक विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया। परिजनों से दूर जीवन व्यतीत करते निःशक्त बुजुर्गों और स्पेशल केयर समेत जस्टिस तन्खा मेमेरियल के दिव्यांग बच्चों ने रैम्प पर वाक किया। लोगों ने कार्यक्रम की जमकर सराहना की।
 
             कल्याण कुंज वृद्धाश्रम में आयोजित कार्यक्रम ने शहर की संवेदनाओं को जगा दिया है। निःशक्त बुजुर्ग, स्पेशल केयर के बच्चे और जस्टिस तन्खा मेमोरियल के दिव्यागों ने रैम्प पर वाक कर अतिथियों को ताली बजाने को मजबूर कर दिया ।
 
              कार्यक्रम का आयोजन पायल लाठ और दीपक अग्रवाल की टीम की अगुवाई में किया गया।  कार्यक्रम में बैंकर्स क्लब के समन्वयक ललित अग्रवाल, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी रितेश अग्रवाल, एडिशन एस पी ओ पी शर्मा, ट्रैफिक डीएसपी विश्वदीपक   त्रिपाठी, छालीवुड हीरो अखिलेश पांडेय, डॉ देवेंद्र सिंह, एस पी चतुर्वेदी, संजय दुबे, आशा अग्रवाल, उषा अग्रवाल समेत गणमान्य लोगों ने शिरकत किया।
 
               कार्यक्रम में शामिल बैंकर्स क्लब समन्वयक ललित अग्रवाल ने बताया कि
लाचार, निःशक्त बुजुर्गों और दिव्यांग बच्चों की प्रस्तुति ने अन्दर तक घर किया है। मैं इसके लिए विशेष रूप से पायल और दीपक की टीम को धन्यवाद देता हूं। आज दिव्यांग बच्चों और वरिष्ठ नागरिकों ने रैम्प पर वाक कर कुछ कर गुजरने का संदेश दिया है।
     
                        ललित ने बताया कि आज के व्यस्यतम युग मे जब हम अपने घरों में माता-पिता या बच्चों को ठीक से नही समझा सकते हैं। वैसे में समाज से कटे हुए इन विशेष लोगों को कुछ दिनों की ट्रेनिग में हँसी खुशी रैम्प पर वाक करवाना काबिलेतारीफ है। इसके लिए व्यक्तिगत रूप से कोरियोग्राफर को शुभकामनाएं देता हूं।
 
              कार्यक्रम की सफलता पर ललित ने कहा कि”उम्र पचपन की दिल बचपन” का हमे संदेश देता हैं कि  तकलीफो, परेशानियों  से जब भी अवसर मिले खुशी के पलों को अवश्य ही जीना चाहिए।पायल लाठ और दीपक अग्रवाल की टीम ने अति प्रशंसनीय कार्य किया हैं। इनकी जितनी भी तारीफ की जाए कम है।
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *