इंडिया वाल

नरेंद्र मोदी को फिर से पीएम बनाने की मुलायम सिंह यादव की बात पर यह क्‍या बोल गईं राबड़ी देवी

Rabri Devi, Mulayam Singh Yadan, Pm Narand Modi, Election,नई दिल्ली-मुलायम सिंह यादव ने एक दिन पहले नरेंद्र मोदी को एक बार फिर देश का प्रधानमंत्री बनने की शुभकामनाएं दी थीं. इस पर पीएम नरेंद्र मोदी ने उन्‍हें धन्‍यवाद भी दिया था. अब बिहार की पूर्व मुख्‍यमंत्री और लालू प्रसाद यादव की पत्‍नी राबड़ी यादव ने इस बारे में बड़ा बयान दिया है. राबड़ी देवी ने कहा- उनकी (मुलायम सिंह यादव) उम्र हो गई है. याद नहीं रहता कि कब क्‍या बोल देंगे. उनकी बोली का कोई मायने नहीं है.एक दिन पहले ही समाजवादी पार्टी के नेता मुलयम सिंह यादव ने बड़ा बयान देते हुए नरेंद्र मोदी की ही दोबारा पीएम बनने की इच्छा जताई।सीजीवालडॉटकॉम के WhatsApp ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करे

बजट सत्र के दौरान मुलायम सिंह ने कहा, ‘हमलोग तो इतने बहुमत में नहीं आ सकते प्रधानमंत्री जी हम चाहते हैं कि आप फिर से प्रधानमंत्री बनें’ उन्होंने पीएम मोदी की तारीफ करते हुए कहा, ‘पीएम को बधाई देना चाहता हूं कि पीएम ने सबको साथ लेकर चलने की कोशिश की है. मैं कहना चाहता हूं कि सारे सदस्य फिर से जीत कर आएं और आप दोबारा प्रधानमंत्री बनें’.

पढे-न्यायधानी में हवाई सेवा क्यों नहीं?अटल श्रीवास्तव बोले-केंद्र सरकार और सांसद की उदासीनता का खामियाजा भुगत रहे बिलासपुर वासी

ऐसे में जब अखिलेश यादव ने लोकसभा चुनाव में बीजेपी को पटखनी देने के लिए मायावती से गठबंधन का फैसला किया तो कभी राज्य में एक दूसरे की दुश्मन दोनों पार्टियों के गठबंधन का फैसला मुलायम सिंह यादव को रास नहीं आया था. 1995 में राजधानी लखनऊ में हुए गेस्ट हाउस कांड के बाद मायावती ने मुलायम सिंह यादव पर अपनी हत्या की साजिश रचने का बेहद गंभीर आरोप लगाया था.

मुझे व्हाट्सएप आया है,इटली में भी चुनाव हैं !! राहुल गांधी के विदेश दौरे पर अमित शाह ने ली चुटकी

मुलायम सिंह यादव के इस बयान को उनके बेटे अखिलेश यादव के लिए ही बड़ा झटका माना जा रहा है क्योंकि दिल्ली में सत्ता के गलियारे तक का रास्ता बनाने वाले देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में उन्होंने मायावती की बहुजन समाज पार्टी से गठबंधन किया है. चूंकि समाजवादी पार्टी के अंदर और पूरी यूपी में मुलायम सिंह यादव का अच्छा खासा प्रभाव माना जाता है ऐसे में इस बयान से अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी को लोकसभा चुनाव में भारी नुकसान का सामना करना पड़ सकता है.

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS