मेरा बिलासपुर

नशा व्यापार का गोल्डन जोन…एक क्विंटल गांजा बरामद

A..(5)बिलासपुर– बिलासपुर और आसपास के क्षेत्र में गांजे की तस्करी धड़ल्ले से जारी है। गांजा तस्कर अपने मंसूबों को कामयाबी तक पहुंचाने में लगातार महंगी गाड़ियों का उपयोग कर रहे है। मुखबिर से मिली जानकारी के बाद आज पेन्ड्रा पुलिस ने कार्रवाई करते हुए एक क्विंटल गांजा बरामद दिया है। मालूम हो कि कुछ दिनों पहले पेन्ड्रा पुलिस ने गांजा से भरे एक टाटा सफारी को पकड़ा था। पुलिस ने एक क्विटंल सत्तर किलो गांजा बरामद किया था। आरोपियों का अभी तक अता-पता नहीं है।

                       पेन्ड्रा  पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि आरएमकेके रोड से एक कार में गांजा लेकर कुछ लोग गुजर रहे हैं । सूचना मिलते ही पुलिस ने बसंतपुर तिराहे में नाकेबंदी कर एक कार समेत तीन गांजा तस्करों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपियों के पास से 100 पैकेट गांजा बरामद किया है। मालूम हो कि राज्य के सीमावर्ती क्षेत्र में लगातार अवैध कारोबार की शिकायत मिल रही है। कुछ दिन पहले गांजा की तस्करी में दो वाहनों को जब्त किया गया था।

बसंतपुर तिराहे में पुलिस कार्रवाई के दौरान मारूति सुजुकी को पुलिस ने गांजा के साथ धरदबोचा है। गाड़ी का नम्बर  डीएल 12 सी 1834 है। पुलिस को मारूति सुजुकी से एक एक किलों के करीब एक क्विटंल गाजा मिले है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार प्रारंभिक पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि गांजा सतना निवासी जस्सा जायसवाल का है। उन लोगों को गांजा पहुचाने के बदले रूपए मिलते हैं।

                                 गिरफ्तार तीनों आरोपी मध्यप्रदेश के रहने वाले हैं। अरूण दाहिया पिता दुर्गा प्रसाद दाहिया निवासी मणि ग्राम थाना नागौद सतना, इबरार खान पिता मुष्ताक खान चैरागांव, सेमरिया जिला रीवा और अजीत जायसवाल पिता गयाप्रसाद जायसवाल कोलगांव थाना बांधवगढ़ के रहने वाले हैं।

शक में जल गये प्रेमी और प्रेमिका..दोनों की हालत गंभीर..सिम्स में चल रहा इलाज

                         बहरहाल पुलिस ने आरोपियों को हिरासत में लेकर नारकोटिक्स एक्ट के तहत अपराध कायम कर लिया है। पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि वे लोग बिलासपुर रतनपुर के रास्ते आरएमकेके रोड का उपयोग गांजा की तस्करी के लिये करते हैं।

                       मालूम हो कि करीब 4 दिन पहले भी पुलिस ने आरएमकेके रोड से गांजे की तस्करी कर रहे टाटा सफारी वाहन को पकड़ा था।  जिसमें 1 क्विंटल 70 किलो गांजा जब्त किया गया था।आरोपी पुलिस को चकमा देकर फरार हो गये थे। जिनकी अब तक पतासाजी नहीं की जा सकी है। वाहन मालिक का भी अभी तक पता नहीं चल सका है। इसी तरह पेन्ड्रा पुलिस ने  दो महीने पहले एम्बुलेंस वाहन में गांजा तस्करी करते हुये पकड़ा था।  लोगों ने आईजी से बसंतपुर और कारीआम में पुलिस चौकी खोले जाने की मांग की है। ताकि इस प्रकार की आपराधिक गतिविधियों पर अंकुश लगाया जा  सके।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS