मेरा बिलासपुर

नसबन्दी काण्डः जोगी कांग्रेस की आईजी से जांच की मांग…भाजपाइयों ने भी उठाए सवाल

IMG20170628124929बिलासपुर—-बहुचर्चित नसबंदी काण्ड में आरोपी कविता फार्मा के साझेदार राकेश खरे की गिरफ्तारी के बाद जोगी कांग्रेस नेताओं ने कन्ट्री क्लब मालिक आईजी कार्यवाही की मांग की है। जनता कांग्रेस नेताओं ने आईजी और कलेक्टर को ज्ञापन देकर कांग्रेसी नेता को सह अभियुक्त बनाने को कहा है।

               जनता कांग्रेस नेता वाणी राव,पूर्व विधानसभा उपाध्यक्ष धरमजीत सिंह ने पीसीसी महामंत्री अटल के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। नेताओं ने बताया कि राकेश खरे ने जहरीली दवा की सप्लाई कर 13 महिलाओं के मौत का जिम्मेदार है। जिसकी गिरफ्तारी कंट्री क्लब से हुई है। कांग्रेसी नेता अटल श्रीवास्तव के खिलाफ भी आरोप तय किया जाए। उन्होने राकेश खरे को संरक्षण दिया है।

                                  जोगी कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव वाणीराव ने आईजी को बताया कि आरोपी की गिरफ़्तारी के लिए आन्दोलन करना और उसे छिपाना दण्डनीय अपराध है। प्रभावित परिवारों के साथ अन्याय है। इसलिए हॉटल मालिक को अभियुक्त बनाकर नसबंदी काण्ड की रुकी हुई कार्यवाही को पुरा किया जाए।
आईजी और कलेक्टर से मुलाकात के दौरान पूर्व विधानसभा उपाध्यक्ष धर्मजीत सिंह, वाणीराव, ज्वाला प्रसाद चतुर्वेदी, संतोष दुबे, विश्वंभर गुलहरे,  शहजादी कुरैशी,बृजेश साहू,समीर अहमद, जीतू ठाकूर विक्रांत तिवारी, मालिकराम डहरिया समेत कई नेता मौजूद थे। आई जी और कलेक्टर से मिलने के पहले जोगी कांग्रेस नेताओं ने रैली निकालकर प्रदर्शन भी किया।

भाजपा नेताओं ने भी की जांच की मांगmanish_agrawal_index_march

                      भाजपा नेता मनीष अग्रवाल ने कहा कि नसबंदी कांड के प्रमुख आरोपी राकेश खरे का पीसीसी महामंत्री के हॉटल में पकड़ा जाना…संलिप्तता को जाहिर करता है।एक आरोपी को किस कारण हॉटल के मालिक के पर्सनल कमरा में ठहरा था। कमरे में क्या कर रहा था? इस बात का जवाब पीसीसी को देना चाहिए। नसबंदी कांड के समय अटल श्रीवास्तव और उनके साथियों ने प्रोपेगंडा किया। मंत्री और सरकार पर अनर्गल आरोप लगाया। आरोपी राकेश खरे की गिरफ्तारी पीसीसी महामंत्री के होटल से हुई। पीसीसी महामंत्री को बताना होगा कि ऐसा क्या रिश्ता है..राकेश खरे से…। एल्डरमेन मनीष अग्रवाल, राजेंद्र भंडारी, महेश चंद्रिकापुरे और प्रवीण दुबे ने संयुक्त प्रेस नोट जारी कर मांग की है कि अटल श्रीवास्तव और आरोपी राकेश खरे के व्यावसायिक संबंधों की जांच हो।

चोरों ने किया नगद और लाखों का सामान पार

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS