मेरा बिलासपुर

नहीं रूक रही भोजपुरी टोल नाका की दादागिरी..हाइवा चालक से गाली गलौच..मोबाइल छीना..पुलिस चुप

बिलासपुर–भोजपुरी टोल नाका वालों की दादागिरी खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। बीती रात टोल  प्लाजा के एक कर्मचारी ने पहले तो फास्ट टैग के नियम और शर्तों को मानने से इंकार फिर ड्रायवर की मोबाइल लेकर हाइवा चालक को गाली गलौज देकर चलता किया।भोजपुरी टोल नाका कर्मचारियों की दादागिरी अब भी कायम है। जानकारी के अनुसार हाइवा चालक रायपुर टिकारी निवासी रामप्यारे लोड गाड़ी लेकर बिलासपुर आ रहा था। भोजपुरी टोल प्लाजा पहुंचने के बाद उसने फास्टटैग कार्ड दिखाया। इसके बाद भी टोल प्लाजा कर्मचारी ने रामप्यारे से रूपए की मांग की। टोल प्लाजा कर्मचारी ने बताया कि यह फास्टटेग का नियम नहीं चलता है। नाका से गाड़ी निकालने के लिए नगद लगेंगे।विवाद बढ़ते देख हाइवा चालक ने मालिक नारायण अवस्थी को फोन लगाया। साथ ही सारी बातों को भी बताया। इसके बाद मोबाइल टोल नाका कर्मचारी को बात करने के लिए दिया। बात खत्म होने के बाद टोल नाका कर्मचारी हाइवा चालक रामप्यारे के साथ गाली गलौच करना शुरू कर दिया।सीजीवाल न्यूज के व्हाट्सएप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक कीजिये  
 
            कर्मचारी ने हड़काते हुए बिना मोबाइल दिए रामप्यारे को जाने के लिए कहा। मोबाइल मांगने पर गाली गलौच करने के साथ ही मारने की धमकी देने लगा। मामले की शिकायत लेकर हाइवा चालक हिर्री थाना पहुंचा। और टोल नाका कर्मचारी के खिलाफ लिखित शिकायत की।
 
               शिकायत दर्ज करने के बाद हिर्री पुलिस ने भी हाइवा चालक को विदा कर दिया। रामप्यारे ने बताया भोजपुरी टोल प्लाजा के दादागिरी से हम सब परेशान हो गए है। ऊपर से शिकायत के बाद भी पुलिस कार्रवाई से बच रही है। जब मामले में पुलिस से बात करने की कोशिश की तो डाट कर भगा दिया गया । पुलिस ऐसा हर बार करती है।

बोदरी नगर पंचायत गेट पर नाराज लोगों ने जड़ा ताला...घंटो किया प्रदर्शन..जान बचाकर भागे सीईओ और अध्यक्ष
Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS