नाबालिग से अनाचार..संदेहियों से पूछताछ

civil line p.s.बिलासपुर—मस्तूरी के एक युवक वेलेन्टाइन डे के एक दिन पहले छात्रावास से जबरदस्ती एक नाबालिग छात्रा को अपना दोस्त बताकर ले गया। दो दिनों तक नाबालिग से अनाचार किया इस दौरान उसने एक महिला के सहयोग से अश्लील फिल्म भी बनाई। अश्लील फिल्म बनाने के बाद युवक ने नाबालिग को छात्रावास छोड दिया।छात्राओ के दवाब में वार्डन ने मामले की शिकायत दर्ज करायी है। शिकायत के बाद पुलिस ने  छः युवको के अलावा एक युवती को  हिरासत में लिया है।  अपहरण का मामला दर्ज करने की बात कही जा रही है। गंभीरता को देखते हुए मामला महिला निरूद्ध सेल को सौंप दिया गया है।

                        जीडीसी छात्रावास में रहने वाली छात्राओ की सुरक्षा एक बार चर्चा का विषय है। अंजली टंडन के बाद एक और विवादास्पद मामला एक दिन पहले सामने आया है। कक्षा 11 की छात्रा को एक युवक 13 फरवरी को बल पुर्वक ले गया। बंधक बनाकर दो दिनों तक अनाचार किया। साथ ही साथियों के सहयोग नाबालिग की अश्लील विडियो बनाया। फिल्मी अंदाज में नाबालिग को 15 फरवरी को छात्रावास भी लाकर छोड़ा।

                         छात्रावास पहुचक नबालिग ने सहेलियों से अपने ऊपर हुए अत्याचार को जब साझा किया तो जीडीसी हास्टल व्यवस्था एक बार फिर विवादों में आ गया है। नाबालिक ने वार्डन से बताया कि उसके साथ अनाचार किया गया है। युवक ने उसकी अश्लील विडियो भी बनाया है। वार्डन शारदा धृतलहरे को नाबालिग से हुए  दुष्कर्म की जानकारी सिविल लाइन थाने को दी।  मामले की गंभीरता को देखते हुए थाना प्रभारी ने महिला निरूद्ध सेल प्रभारी मेघा टेंभुरकर को मामले से अवगत करवाया।

                    इस दौरान पुलिस नाबालिग से घटना के संबंध में देर रात तक गवाही ली। गंभीरता को ध्यान में रखते हुए मामले को महिला निरूद्ध सेल को सौप दिया गया है।पुलिस ने मस्तुरी निवासी धनश्याम पिता मनहरण दास मानिकपुरी को हिरासत में लिया है। पांच अन्य य़ुवको के साथ ही एक युवती को भी गिरफ्तार किया है। थाना प्रभारी नसर सिद्दिकी ने बताया कि धारा 336,365 अपहरण का अपराध आरोपियों के खिलाफ  दर्ज किया गया है। नाबालिग के बयान के बाद मामले में अन्य धाराएं जुड सकती है।

                  नाबालिग के माता पिता ने बताया कि घटना की सूचना मिलते ही वे लोग मुंगेली से बिलासपुर आये है। उन्होने बताया कि हम अपनी बच्ची को वार्डन की सूरक्षा में छोड कर गये थे। उसके साथ जो कुछ भी हुआ उसके लिए वार्डन शारदा धृतलहरे को ही जिम्मेदार  है।

वार्डन की भूमिका नहीं

बाक्स- नाबालिग के हुई इस घटना में वार्डन शारदा धृतलहरे की कोई भूमिका नहीं है। छात्रा के अनुसार युवक उसका दोस्त था। मना करने के बाद भी वह बिना इजाजत अपने घर गयी। बावजूद इसके एफआईआर समय पर दर्ज नहीं कराया गया है। इस बात को लेकर वार्डन से पूछताछ होगी। फिलहाल आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। नाबालिग से बातचीत के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

                                                                                                                            मेघा टेंभुरकर- महिला निरूद्ध सेल प्रभारी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *