ना पानी..ना शौचालय..कोई किराए का भी मकान नहीं दे रहा..आवास के लिए बहतराई वासियों ने लगाई गुहार

बिलासपुर— बहतराई निवासियों ने जिला प्रशासन से गुहार लगाई है कि उन्हें भी रहने के लिए मकान  की व्यवस्था की जाए। स्थानीय लोगों ने बताया कि कोरोना काल में उन्हें सरकार ने खाली आवास से निकाला। स्थिति यह है कि कोई किराए पर भी मकान देने को तैयार नहीं है। ऐसी स्थिति में परिवार को सिर छिपाना मुश्किल हो गया है। 

                                बहतराई के रहने वालों ने आज जिला कार्यालय पहुंचकर मकान की गुहार लगाई है। स्थानीय लोगों ने बताया कि उन्हें कुछ महीने पहले निगम ने खाली आवास से बाहर निकाल दिया है। इसके बाद परिवार को सिर छिपाने के लिए कोई किराए में मकान भी देने को तैयार नहीं है। कोरोना काल में उन्हें कई काम काज भी नहीं मिल रहा है। 

           अपनी लिखित शिकायत में बहतराई वासियों ने बताया कि आवास खाली करवाते समय निगम और जिला प्रशासन ने आश्वासन दिया था कि रहने के लिए आवास दिया जाएगा। लेकिन चार महीने बीत जाने के बाद भी हम टेन्ट या झोपड़़ियों में रहने को मजबूर हैं। कई परिवार खाली स्कूलों में रहते हैं। चूंकि स्कूल खुलने वाला है। अब हम लोगो को स्कूल से निकालने की धमकी दी जा रही है। समझ में नहीं आ रहा है कि अब हम जाए तो कहां जाए।

                   फरियाद लेकर पहुंचे लोगों ने बताया कि स्कूल में ना तो पानी की व्यवस्था है और ना ही शौचालय है। जिसके चलते बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। कोरोना काल में कोई किराए का मकान भी नहीं दे रहा है। परेशानियों को ध्यान में रखते हुए हमें आवास की सुविधा दी जाए।              

                 

                  

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...