निगम चुनावः वार्ड 28 और 29– दोनों वार्ड में कांग्रेस नेता शेख गफ्फार का दबदबा…यहां महिला मतदाता सर्वाधिक…भाजपा कर रही कड़ी मेहनत..क्षेत्र में पानी की लड़ाई

नगर निगम चुनाव ,परिसीमन, प्रक्रिया, जारी, सत्ता पक्ष ,मनमानी, रोकने, बीजेपी,कमेटी,रायपुर,छत्तीसगढ़

बिलासपुर—- तारबाहर क्षेत्र का वार्ड क्रमांक 28 और 29 में सबकी नजर है। चुनावी दस्तावेजों में वार्ड क्रमांक 28 का नाम प्रियदर्शनी नगर और वार्ड क्रमांक 29 का नाम संजयगाधी नगर है। संजय गांधी नगर से कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शेख गफ्फार मैदान में है। सामना भाजपा के वरिष्ठ नेता और पुराने कांग्रेसी रह चुके राजेश रजक के बीच है। वार्ड 28 में कांग्रेस की मालती चौकसे और भाजपा की लक्ष्मी साहू आमने सामने हैं। कहने को तो दोनों वार्ड से कांग्रेस के चार प्रत्याशी आमने सामने हैं। सच तो यह है कि दोनों ही वार्ड से कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शेख गफ्फार चुनाव लड़ रहे हैं। गफ्फार के प्रभाव कुछ ऐसा है कि दोनों ही वार्ड में भाजपा कमजोर पड़ती नजर आ रही है।

                             जब भी तार बाहर क्षेत्र में चुनाव की चर्चा होती है..अपने आप कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शेख गफ्फार का चेहरा सबके सामने आ जाता है। शेख गफ्फार पिछले बीस साल चुनाव लड़ाते रहे है। लेकिन इस बार खुद मैदान में है। पिछले चार चुनाव में उन्होने निगम में कांग्रेस के पार्षद को जीताकर भेजा। लेकिन इस बार खुद पार्षद का चुनाव लड़ रहे है। शेख गफ्फार का प्रभाव तारबाहर क्षेत्र के पांच वार्ड में है। मेहनत भी कर रहे हैं। हो सकता है कि संख्या बल की जरूरत चुनाव के बाद पड़े। क्योंकि शेख गफ्पार पार्षद नहीं..मेयर का भी चुनाव लड़ रहे हैं।

वार्ड 28 और 29 के प्रत्याशी..क्षेत्र की समस्या

                           वार्ड 28 और 29 दोनों एक सड़क से अलग है। दोनों ही वार्ड में शेख गफ्फार का प्रभाव है। इस बात को भाजपा के नेता भी जानते हैं। फिर भी भाजपा ने मजबूत प्रत्याशी को मैदान में उतारा है। वार्ड क्रमाक 28 यानि प्रियदर्शनी नगर अन्य पिछड़ा वर्ग महिला के लिए आरक्षित है। भाजपा प्रत्याशी लक्ष्मी साहू का मुकाबला कांग्रेस प्रत्याशी मालती महेश चौकसे से है। वार्ड क्रमांक 29 संजय गांधीनगर अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित है। यहां कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शेख गफ्फार का मुकाबला भाजपा के वरिष्ठ नेता राजेश रजक से है। राजेश रजक एक समय कांग्रेस का चेहरा हुआ करते थे। दोनों ही वार्ड में मुकाबला दिलचस्प होगा। क्योंकि लोगों का मानना है कि दरअसल दोनो ही वार्ड से चुनाव शेख गफ्फार लड़ रहे हैं। बताते चलें कि शेख गफ्फार बीस साल बाद निगम चुनाव लड़ रहे हैं। कयास लगाया जा रहा है कि बहुमत मिलने पर मेयर बन सकते हैं।

 दोनों वार्ड की एक सी समस्या

               तारबाहर क्षेत्र के दोनों वार्डों की पहचना शहर में तंग बस्ती और संवेदनशील क्षेत्र के रूप में रहा है। पिछले 20 साल में क्षेत्र में विकास के काम भरपूर हुए है। लेकिन पानी की समस्या का स्थायी निदान आज की सबसे बड़ी जरूरत है। रेलवे क्षेत्र से लगा यह वार्ड पानी की समस्या से हमेशा जूझता रहा है। बिजली भी एक समस्या है। लेकिन मुद्दा बहुत बड़ा नहीं है। यहां गरीबों की बहुत बड़ी आबादी निवास करती है। स्थायी पट्टा भी यहां का मुद्दा है। क्षेत्र मुस्लिम बहुल है। अन्य वर्गों से भी लोगों का नाम गरीबी की मार में शुमार है। 

दोनों वार्डों की मतदाता संख्या और बूथ

                    वार्ड क्रमांक 28 यानि प्रियदर्शनी नगर में बूथ की कुल संख्या 6 और मतदाताओं की आबादी 5340 है। यहां महिला मतदाता 2714 और पुरूष मतदाता 2626 है। जाहिर सी बात है कि यहां महिला मतदाता अधिक हैं। बूथ एक में 729,बूथ दो में 1044,बूथ तीन में 916, बूथ 4 में 1011 बूथ पांच में 1017 और बूथ 6 में मतदाताओं की संख्या 623 है।

             वार्ड क्रमांक 29 यानि संजयगांधीनगर में मतदाताओं की कुल संख्या 6686 हैं। कुल आठ बूथ में मतदान होगा। यहां महिला मतदाताओं की संख्या 3351 और पुरूष की 3333 है। महिला और पूुरूष मतदाताओं का अनुपात लगभग बराबर है। संजय गाधी नगर के बूथ एक में 975,बूथ दो में 952,बूथ तीन में 918,बूथ चार में 702,बूथ पांच में 859, बूथ 6 में 788,बूथ सात में 666 और बूथ आठ में मतदाताओं की कुल संख्या 826 है।  

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *