निष्कासित सिम्स स्टाफ ने लगाई गुहार

rajsav nirkhak adhikario ki baithak collector dwara (3)बिलासपुर–सिम्स के तृतीय और चतुर्थ श्रेणी के पदो में हुई धांधली को लेकर सिम्स प्रबंधन ने कुछ वेंडरो और कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखा दिया था। जांच में चल रही कछुवा गति से परेशान निकाले गये कर्मचारियो ने डीन और कलेक्टर को ज्ञापन के माध्यम से जांच को जल्द से जल्द पूरा करने की गुहार लगायी है। पीड़ितों ने दोषियो के खिलाफ कार्रवाई की मांग  की है।

                      सिम्स में 2012-13 में तत्कालिन डीन एस.के. मोहन्ती के कार्यकाल में सिम्स में वार्डबाय, नर्स, आया, माली, धोबी, और विभिन्न पदो पर भर्ती किया गया था। भर्ती में गडबडी की शिकायत के बाद से ही सिम्स का माहौल गरमाया हुआ है। मामले की दण्डाधिकारी जांच चल रही है। जिसमें अब तक पूर्व डीन समेत 21 अधिकारियो और कर्मचारियो को नोटिस जारी किया गया है।

                                   मामले में अभी जांच रही है तो वही दूसरी ओर सिम्स से निकाले गये वेंटरो ने जांच प्रक्रिया को जल्द से जल्द पूरा करने की गुहार लगाई है। साथ दोषियो पर कडी कार्रवाई की मांग की है। निष्कासित कर्मचारियों ने आज सिम्स के डीन विष्णु दत्त से गुहार लगाने के बाद  कलेक्टर अंबलगन पी से मामले को शीघ्र निराकरण करने की अपील की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *