मेरा बिलासपुर

नोटबंदी के समय सहकारी बैंक में 5 दिन के अँदर किसके खाते में जमा हुए 50 करोड़ रुपए…. एक हफ्ते में उजागर करें नाम….. जोगी कांग्रेस का हल्ला बोल…

बिलासपुर। नोटबंदी के दौरान 2016 में जिला सहकारी बैंक में 5 दिन के अँदर 50 करोड़ से अधिक की राशि जमा कराए जाने का मामला गरमाता जा रहा है।  जोगी कांग्रेस ने नोटबंदी के दौरान जिला सहकारी केंद्रीय बैंक बिलासपुर शाखा में 5 दिन के अंदर 50 करोड़ से अधिक राशि जमा किए जाने के मामले में सोमवार को बैंक के सामने प्रदर्शन किया ।  प्रदर्शन के बाद जिला कलेक्टर के नाम सौंपा गया  । ज्ञापन में पांच नोटबंदी के दौरान को ऑपरेटिव बैंक में जमा हुई राशि के मामले की जांच की मांग की ।   किन खाताधारकों के खाते में राशि जमा की गई है उनका नाम 1 हफ्ते के भीतर उजागर करने की मांग की गई है ।  साथ ही यह भी कहा गया है कि यह इस राशि से  किसानों के ऋण को माफ करते हुए समायोजन किया जाए ।

सोमवार को जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़  ( जे  ) के कार्यकर्ताओं ने नेहरू चौक स्थित जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के सामने प्रदर्शन किया । वह मांग कर रहे थे कि नोटबंदी के दौरान 10 नवंबर 2016 से 14 नवंबर 2016 के बीच सिर्फ 5 दिनों में जिला सहकारी केंद्रीय बैंक मर्यादित बिलासपुर में 50 करोड़ 29 लाख  रुपए से अधिक जमा की गई   राशि की जांच की जानी चाहिए  । जिला कलेक्टर के नाम एक ज्ञापन में कहा गया है कि 10 नवंबर 2016 से 31 दिसंबर 2016 के बीच छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी बैंक मर्यादित में 280 करोड़ रपए मूल्य के पुराने नोट  जमा हुए  । जिसमें से 10 नवंबर 2016 से 14 नवंबर 2016 के बीच में केंद्रीय बैंक बिलासपुर में लगभग 50  करोड़ रुपए जमा किए गए हैं  । ज्ञापन में कहा गया है कि नोटबंदी के दौरान  जहां गरीब और आम आदमी नदी अपने पुराने नोटों को बदलवाने के सामने 50 दिनों तक लाइन लगाकर खड़ा रहा ।  इस दौरान कई व्यक्तियों को अपनी जान गंवानी पड़ी । वहीं  नोटबंदी के बाद शुरुआती दिनों में जिला सहकारी बैंक बिलासपुर में 50करोड़ 29 लाख रुपए जमा किया जाना बैंक की मिलीभगत   की ओर इशआरा करता है ।  इसकी जांच जरूरी है ।

ज्ञापन में मांग की गई है की इस अवधि में  किन-किन खाताधारकों के खाते में  राशि जमा की गई  उनके  नाम 1 सप्ताह के भीतर उजागर करें ।  इस राशि को गरीब किसानों के कृषि ऋण को माफ करते हुए समायोजन किया जाए ।  इस राशि को फसल बीमा सूखाग्रस्त क्षेत्र के किसानों को मुआवजा राशि के वितरण पर आयोजन किया जाए ।  किसानों को तत्काल खाद बीज उपलब्ध कराने में सहयोग किया जाए  । जिनके खाते में राशि जमा की गई है उनके ऊपर भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत कार्रवाई की जाए ।   सोमवार को ज्ञापन सौंपने वालों में जोगी कांग्रेस के विश्वंभर गुलहरे, जीतू ठाकुर ,संतोष दुबे बृजेश साहू, मालिकराम लहरिया, टिकैत  प्रताप सिंह ,चंद्र प्रकाश कुर्रे और विक्रांत तिवारी  सहित बड़ी संख्या में जोगी कांग्रेस के कार्यकर्ता शामिल थे ।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS