नोटबंदी के 100 डेजःआप नेताओं ने पूछे सवाल

IMG-20170219-WA0686बिलासपुर—आम आदमी पार्टी ने नेहरू चौक पर नोटबंदी के खिलाफ प्रदर्शन किया। हाथ में कटआउट लेकर नोटबंदी का विरोध किया। आप नेताओं ने बताया कि 100 दिन बाद भी जनता की समस्याएं कम नहीं हुई है। ना तो आतंकवाद में कमी आई है और ना ही सरकार ने कालाधन का खुलासा किया है। नोटबंदी से एक वर्ग विशेष को जरूर फायदा हुआ है। गरीब,मजदूर और मध्यमवर्गीय जनता नोटबंदी की मार से कराह रही है।

                         नेहरू चौक पर हाथों में तख्तियां लेकर आम आदमी पार्टी के नेताओं ने नोटबंदी और उससे पैदा हुई परेशानियों के खिलाफ मौन प्रदर्शन किया। आप नेताओं ने बताया कि आतंकवाद और कालाधन के नाम पर नोटबंदी अभियान की सच्चाई अब सबके सामने आ चुकी है। सब कुछ पूंजीपतियों को फायदा पहुंचाने के लिए किया गया। घोटालों के फेहरिस्त में नोटबन्दी देश का सबसे बड़ा घोटाला साबित हुआ है।

                  आप नेताओं ने बताया कि नोटबंदी अभियान के दौरान 100 से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं। जनता को अपने ही पैसों के लिए महीनों बैंक के सामने लाइन में खड़ा होना पड़ा। नोटबंदी अभियान के बाद घरों में शहनाई की जगह मातम का माहौल देखने को मिला। लेकिन केन्द्र सरकार ने अब तक नहीं बताया कि नोटबंदी के बाद कितना कालाधन देश के खजाने में आया ? आतंकवादी गतिविधियों में कितनी कमी आयी। कितने घोटालेवाजों को हिरासत में लिया गया।

                    आमआदमी पार्टी के नेताओं के अनुसार कालाबाजारी पर तो रोक तो लगी नहीं…लेकिन दो हजार के फेक गुलाबी नोट बाजार में जरूर आ गये हैं। कार्यक्रम में नीलोत्पल शुक्ला, सरदार जसबीर सिंग, प्रियंका शुक्ला, विनय जायसवाल, हरिश चंदेल , दीपांशु कश्यप, हितेश , गुलाम गॉस , रवि यादव, अनुभा , वीरेंद्र , खगेश केवट , संतोष शुक्ला, दिलदार सिंह समेत आम आदमी पार्टी कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *