नोबटबंदी से रेलवे को मिला रिकार्ड राजस्व

1/5/2000 9:19 PMबिलासपुर—नोटबंदी अभियान से निश्चित रूप सामान्य जन जीवन बुरी तरह से प्रभावित हुआ है। देशभर में लोगों को तरह-तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा हो। लेकिन निगम,बिजली विभाग,पेट्रोल पंप संचालक,मेडिकल,सेल्स टैक्स ,आयकर विभाग समेत कुछ कार्यालयों को नोटबंदी अभियान का सीधे सीधे फायदा हुआ है।

                  नोटबंदी से रेलवे प्रशासन को फायदा हुआ है। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे,बिलासपुर जोन की बात करें तो नोटबंदी के बाद से पिछले 1 महीने में ढाई करोड़ की रिकार्ड टिकट बिक्री हुई है। जोन में 75 लाख की रिकार्ड राशि रिफंड भी हुई है। मालूम हो कि विमुद्रीकरण के चलते 500 और 1000 रूपए के नोट के चलन पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

                       सरकार ने पेट्रोल पंप,सरकारी अस्पताल,एयरपोर्ट पर आम जनजीवन को राहत देते हुए हजार और 500 के नोट लेने के आदेश दिया था। कयास लगाया जा रहा है कि रेलवे टिकट खरीदी बिक्री को अंजाम देकर लोगों ने बड़े पैमाने पर कालाधन का वारा न्यारा किया है। यही वज़ह है कि महज एक महीने में ही बिलासपुर जोन में रिजर्वेशन काउंटर से ढाई करोड़ की टिकट खरीदी हुई है।

                     बड़े पैमाने पर टिकटों को कैंसिल भी कराया गया है। एक अनुमान के मुताबिक पिछले एक महीने में औसत से तीनगुना अधिक टिकट की बिक्री हुई है। रेलवे को जबरदस्त राजस्व  का फायदा हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *