मेरा बिलासपुर

नौनिहाल जगाएंगे शिक्षा का अलख

IMG-20150626-WA0005

बिलासपुर— बिलासपुर लोकसभा सांसद लखनलाल साहू ने महमंद में शाला प्रवेश उत्सव में शिरकत छात्र छात्राओं को उत्साहित किया। इस मौके पर स्कूल के सभी स्टाफ उपस्थित थे। कार्यक्रम में नन्हें बच्चों को तिलक और गणवेश देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम को लखनलाल साहू और कृष्णमूर्ति बांधी ने संबोधित किया।

                  महमंद स्कूल में शाला प्रवेश उत्सव मनाया गया। इस दौरान छात्र-छात्राओं में जबरदस्त उत्साह देखने को मिला। सांसद लखन लाल साहू और पूर्व स्वास्थ्य मंत्री डॉ.कृष्णमूर्ति बांधी ने नव प्रवेशी बच्चों का स्वागत किया। इसके पहले सभी नव प्रवेशी बच्चों को तिलक लगाया गया। सांसद साहू ने बच्चों ने रेन कोट और शाला गणवेश के साथ किताबों का वितरण किया। कार्यक्रम में महमंद के सरपंच समेत स्थानीय गणमान्य लोग भी उपस्थित थे।

                    कार्यक्रम के अंत में डॉ.कृष्णमूर्ति बांधी और सांसद साहू ने उपस्थित लोगों को संबोधित किया। सांसद साहू ने कहा कि शासन शाला प्रवेश उत्सव के माध्यम से सबको शिक्षित बनाने का लक्ष्य रखा गया है। देश के प्रत्येक नागरिक का शिक्षा पर सामान अधिकार है। सांसद साहू ने अपने भाषण के दौरान कहा कि शिक्षा के अलख से प्रदेश का कोना कोना जगमग होगा। जब तक शिक्षा का दीप नहीं जलेगा तब तक लोग अपने अधिकार को ठीक से पहचान नहीं सकेंगे।

                    कार्यक्रम के दौरान सांसद लखनलाल साहू ने स्थानीय जनप्रतिनिधियों से कहा कि शासन की योजनाओं को खासतौर पर शिक्षा से जुड़ी प्रत्येक अवसरों को जन-जन तक पहुंचाए। देखने में आया है कि लोग किन्ही कारणों से स्कूल छोड़ देते हैं। जबकि शासन की कई ऐसी योजनाएं हैं जिसके तहत प्रत्येक विद्यार्थियों को निशुल्क पढ़ाई करने का अवसर सरकार ने दिया है। लेकिन जानकारी के अभाव में लोग पढ़ाई छोड़ देते हैं। लखनलाल साहू ने कार्यक्रम में उपस्थित अभिभावकों से कहा कि बेटी हो या बेटा सबको शिक्षा पर एक समान अधिकार है। शिक्षा के क्षेत्र में आर्थिक तंगी सरकार कभी आने नहीं देगी।

पुलिस की बड़ी कार्रवाई..52 किलो गांजा बरामद कार जब्त..न्यायालय के हवाले तीनों गांजा तस्कर

                  कार्यक्रम के दौरान लखन लाल साहू ने महमंद गाव के लिए पांच लाख का एलान किया। इन रूपयों से सीसी रोड बनाया जाएगा। इसके अलावा स्कूल के लिए अहाता निर्माण और दो पानी टंकी भी बनेगा।  जाएगा।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS