न्याय यात्राः कांग्रेसी खुश…भाजपा ने कहा ढकोसला

IMG-20151016-WA0013बिलासपुर— कांग्रेस जिला कमेटी की पहले चरण की किसान न्याय पदयात्रा बेलगना में समाप्त हुई । दूसरे चरण की तीन दिवसीय पदयात्रा लिंगिया डीह से शुरू होकर जोंधरा में खत्म होगी। कांग्रेस ने जहां इस पद यात्रा को अपनी जीत बताया है तो वहीं भाजपा नेता मनीष अग्रवाल ने इसे ठकोसला करार दिया है। कांग्रेस ने दावा किया है कि किसान न्याय पदयात्रा के दबाव में सरकार ने धान खरीदी की तारीख को बढ़ाया है तो भजापा का कहना है कि सरकार ने किसानों के हितों को ध्यान में रखते हुए धान खरीदी की तारीख को एक नवम्बर से 15 नवम्बर किया है।

                         कांग्रेस की प्रथम चरण की पदयात्रा कोनी से शुरू होकर बेलगना में समाप्त हुई। इसी दौरान प्रदेश सरकार ने एक निर्णय लेते हुए धान को खरीदने की तारीख एक नवम्बर से बढ़ाकर 15 नवम्बर कर दिया है। कांग्रेस ने इसे अपनी जीत बताया है। कांग्रेस ने जहां इसे अपनी जीत बताया है तो वहीं भाजपा का कहना है कि  प्रदेश सरकार ने यह कदम किसानों के हितों को ध्यान में रखकर उठाया है।

                                                             मालूम हो कि 14 तारीख को भूपेश बघेल ने जिला कांग्रेस कमेटी के राजेन्द्र शुक्ला की अगुवाई में किसान न्याय यात्रा को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया था। किसान यात्रा को करूणा शुक्ला और पीसीसी अध्यक्ष ने संबोधित करते हुए कहा था कि 12 बिन्दुओं को लेकर निकाली गयी यात्रा गांव गरीब और किसानों के लिए है। कांग्रेस नेताओं ने पदयात्रा के बाद बताया कि जगह-जगह लोगों के मन प्रदेश सरकार के खिलाफ गहरा आक्रोश है। पदयात्रा को किसानों का जबरदस्त समर्थन मिला है। उम्मीद है कि अगले चरण में भी न्याय यात्रा को भारी समर्थन मिलेगा।

amar swagat 15 1

किसान न्याय यात्रा पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए भाजपा नेता मनीष अग्रवाल ने बताया कि यह यात्रा नहीं ठकोसला है। कांग्रेस के ठकोसले को आम जनता और किसान भली भांति जानते हैं। उन्होंने कहा कि पदयात्रा पूरी तरह फ्लाप शो साबित हुई है। जहां थोड़ी बहुत लोग दिखे वे अपनी सेहत को ठीक करने के लिए पदयात्री बने। मनीष अग्रवाल ने कहा कि समझ में नहीं आता है यह कैसी पदयात्रा। कभी उन्होंने गरीबों के घर के अन्दर झांक कर देखा। जिस दर्द को उन्होंने पचास साल से दिया है। भाजपा नेता ने कहा कि रमन और मोदी सरकार की योजनाएं किसानों के हितों को  ध्यान में रखकर तैयारी की जाती हैं। आज किसान खुशहाल है। पहले कितना धान कांग्रेस लेती थी। जब जनाधार खिसक गया तो अब उन्हें किसान याद रहे हैं। अग्रवाल ने बताया कि दिन में पदयात्रा और रात में मोटर सायकल उठाकर घर में थकान दूर करने और छप्पन भोग उठाने वाले कांग्रेसी किसानों के दर्द को भला क्या जानें। उन्होंने कहा कि यह सब नौटंकी है। उन्हे पता था कि धान खरीदी का समय बढ़ेगा। जैसा कि हमेशा होता है। जाहिर सी बात है कि धान खरीदने के लिए पहले एक संभावित तारीख घोषणा होती है । उसके बाद उस पर विचार विमर्श किया जाता है। जैसा कि अभी हुआ। धान खरीदी की तारीख 15 नवम्बर से शुरू किया जाएगा।

किसान और गरीबों की सरकार—

छत्तीसगढ़ कृषि प्रधान प्रांत है। यह तो पहले से ही तय था कि किसानों के धान को खरीदन के लिए तारीख बढ़ाई जाएगी। कांग्रेसी पदयात्रा पर नहीं बल्कि तफरी करने गये थे। उन्होंने नवरात्रि पर माता महामाया और सिद्ध आश्रम का दर्शन किया। मातारानी उन्हें बुद्धि देगी। पचास साल तक आखिर उन्होंने किया गया…किसानों का शोषण..पदयात्रा के बाद सभी कांग्रेसी रात को थकान मिटाने घर आ जाते हैं। दरअसल वे लोग डायटिंग कर रहे हैं। इस बात को किसान भी अच्छी तरह समझ रहे हैं।

मनीष अग्रवाल…भाजपा नेता एवं एल्डर मेंन

भाजपा सरकार में दहशत

किसान न्याय यात्रा से भाजपा में दहशत है। उन्हे दिख गया कि किसानों का जगह-जगह पदयात्रियों को भरपूर समर्थन मिल रहा है। उसका सबसे बड़ा उदाहरण धान खरीदी की तारीख का बढ़ना है। यह सब कांग्रेस के प्रयास से ही हुआ है। भाजपा नेता सत्ता में मदहोश हैं। उन्हें गरीबों की पीड़ा का अहसास नहीं है। हम लोगों ने ईश्वर से प्रार्थना किया है कि भाजपा नेताओं को मातारानी सद्बुद्धि दे। सबसे ब़डी बात गरीबों का मजाक उड़ाने वाला गरीबों के दुख दर्द को भला क्या समझेगा।

अटल श्रीवास्तव..महामंत्री प्रदेश कांग्रेस

Er. Atal Shrivatstavaपदयात्रा को भारी सफलता–

पदयात्रा की भारी सफलता से भाजपा नेता बेचैन हो गये हैं। जनता में भयंकर आक्रोश है। पदयात्रा की सफलता को देखकर सरकार सहम गई है। जनता में भाजपा के प्रति गहरा आक्रोश है। कांग्रेस ने पदयात्रा के दौरान किसानों को जागरूर किया है कि अपनी जमीन बचा कर रखें। नहीं तो उसी जमीन में उन्हें कमिया बनकर काम करना होगा।

अभय नारायण राय..संभागीय प्रवक्ता कांग्रेस

जनता में भयंकर आक्रोश

गांव की जनता खून की आंसू रो रही है। सूखे के हालात हैं। लोग गांव का गांव छोड़कर भाग रहे हैं। अभी तक सरकार ने राहत काम शुरू नहीं किया है। जगह-जगह कांग्रेस पदयात्रियों का भव्य स्वागत किया गया। सभी ने बस एक बात को दुहराया कि भाजपा सरकार ने जीना हराम कर दिया है। आज यदि चुनाव हो जाए तो भाजपा की हार तय है। अभियान आगे भी चलता रहेगा। सब सभी चरण की पदयात्रा खत्म होगी। देखना भाजपा के खिलाफ किसानों की एक लहर दिखाई देगी।

राजेन्द्र शुक्ला…जिला ग्रामीण अध्यक्ष कांग्रेस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *