मेरा बिलासपुरहमार छ्त्तीसगढ़

पंगत में राजा और रंक…जब सीएम ने लिया निशुल्क भण्डारे का स्वाद..भूपेश ने कहा…मां के लिए सभी बेटे बराबर

बिलासपुर–लोरमी रवाना होने से पहले प्रदेश के मुखिया और किसान पुत्र भूपेश बघेल ने माता महामाया के दरबार में हाजिरी दी। जीत के साथ जनता के सुख का आशीर्वाद मांगा। प्रदेश में चहुंओर खुशहाली की कामना की। इस दौरान प्रदेश के कद्दावर मंत्री डॉ.शिव डहरिया, तखतपुर विधायक रश्मि सिंह, ब्रिगेडियर प्रदीप यदु और बिलासपुर जिला कांग्रेस ग्रामीण अध्यक्ष विजय केशरवानी समेत अन्य स्थानीय कांग्रेस नेता और गणमान्य नागरिक भी मौजूद थे।

                       माता महामायी के दर्शन और विधि विधान से पूजा पाठ के बाद सीएम भूपेश बघेल ने जनता जनार्दन से जीवन्त संवाद किया। उन्होने कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार जनता के सुख और दुख में हमेशा साथ है। जीवन्त संवाद के बाद प्रदेश के मुखिया ने आम जनता की तरह पंगत में बैठकर निशुल्क लंगर का स्वाद लिया। अपने आप को अपनों के बीच पाकर सीएम ने खुशी जाहिर की। पंगल में बैठे लोगों ने भी भूपेश की सहजता और जीवन्त संवाद की जमकर तारीफ की।

पंगत मे लिया निशुल्क भण्डारा का स्वाद

                       यकायक जब लोगों को पता चला कि सीएम भूपेश बघेल भी महामाया के दरबार में हाजिरी देने आए हैं। तो खुशी का ठिकाना नहीं रहा। इसके बाद जब लोगों को जानकारी मिली कि प्रदेश के मुखिया आम लोगों के साथ भण्डारा का स्वाद लेंगे…खुशी को मानों पंख लग गए। फिर क्या था आम और खास का भेद मिटने में समय नहीं लगा। देखते ही देखते भूपेश बघेल के साथ नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ.शिव डहरिया, तखतपुर विधायक रश्मि सिंह और जिला कांग्रेस ग्रामीण अध्यक्ष विजय केशरवानी के साथ अन्य गणमान्य लोगों ने जमकर भण्डारे का स्वाद लिया।

LIVE VIDEO-देखें दीपक ज्वैलर्स में किस तरह लूट को आरोपियों ने दिया अंजाम..देखें दया की गुहार लगाते संचालक को..2 आरोपी गिरफ्तार

                        भूपेश ने प्रसाद लेने के बाद निशुल्क भण्डारे और भोजन की गुणवत्ता की सरहाना की। उन्होने बताया कि मातारानी का आशीर्वाद हमेंशा प्रदेश के एक एक भाई बहनों और बेटियों पर बनी रहे। माता के दरबार में ना कोई आम होता है और ना खास…सब लोग माता के बेटे होते हैं। लंगर खाकर अच्छा लगा। इसके बाद सीएम एसईसीएल हेलीपेड के रवाना हुए। विजय केशरवानी ने बताया कि सीएम ने आज लोगों के साथ भोजन कर दिल को जीत लिया है। खासकर चुनावी व्यस्तता के बीच उनकी सहजता ने आम जनता के  दिल पर अमिट छाप छोड़ा है।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS