मेरा बिलासपुर

परदेशी को दी गई विदाई

 

vidai

बिलासपुर ।  श्री परदेशी ने कलेक्टर बिलासपुर के पद पर कार्य करते हुए अपनी विशिष्ट पहचान बनाई है। वे प्रशासनिक समाजिक एवं पारिवारिक दायित्वों का समन्वय कर निर्वाह करते थे। उनका व्यक्तिव्य शांत स्वभाव का था। उनके निर्णय लेने की अद्भूत क्षमता थी। संभागायुक्त  सोनमणि बोरा ने  होटल कोर्टयार्ड में आयोजित सम्मान एवं विदाई समारोह में उक्त बाते बोलते हुए कही।
संभागायुक्त श्री बोरा ने कहा कि उनका और हमारे परिवार का सौहार्दपूर्ण पारिवारिक संबंध थे। यह सुखद संयोग रहा कि जहाॅं जहाॅ मेरी पदस्थापना रही वहीं पर उनकी भी पदस्थापना हुई। मैं इसके पूर्व आयुक्त गृह निर्माण मंडल पर पदस्थ था। इसी तरह कवर्धा और बिलासपुर में कलेक्टर के पद पर मेरे बाद उन्होने कार्यभार संभाला है। वे तनाव रहित शांत चित्त से निर्णय लेकर बिलासपुर जिले में अच्छा कार्य किया है। बिलासपुर कलेक्ट का कार्य चुनौती भरा है।श्री बोरा ने कहा कि श्री परदेशी एक पारिवारिक सहयोगी कलेक्टर हैं। वे अपने माता पिता एवं परिवार के लिए भी समर्पित रहे हैं। आयुक्त गृह निर्माण मंडल का कार्य भी चुनौती पूर्ण है। वे लोगों को कम लागत में अच्छे आवास उपलब्ध करायेंगे। मैं उनके सुखद भविष्य की कामना करता हूॅ।
पुलिस महानिरिक्षक  पवनदेव ने कहा कि बिलासपुर में उनके साथ हमने 14 माह कार्य करते हुए बिताये। उसका पता ही नहीं चला। उन्होने कहा कि सामाजिक एवं प्रशासनिक पक्ष में उनकी कमी हमेशा खलेगी। उन्होने बिलासपुर में बड़ी बड़ी घटनाओं पर परिस्थितियों को अच्छे से संभाला बेहतरीन कार्य किया है। पुलिस अधीक्षक श्री अभिषेक पाठक ने कहा कि श्री परदेशी कुशल प्रशासक थे उनका बिलासपुर का कार्यकाल सफल रहा है। वे समाज के सभी वर्गो के बीच सांमजस्य स्थापित कर व्यवस्था संभालते थे। पुलिस विभाग को सदेव उनका सहयोग मिलता रहा। आयुक्त नगर निगम श्रीमती रानू साहू ने स्वागत भाषण में कहा कि श्री परदेशी एक महत्वपूर्ण एवं बेहतर पद पर जा रहे हैं। वे पूरे राज्य में लोगों की बेहतरी के लिए कार्य करेंगे। उनकी कार्यशैली अद्भूूत है। उनके कार्यशैली से लोग शीघ्र ही उनके अनुयायी बन जाते हैं।

राष्ट्रीय प्रवक्ता लेंगे कांग्रेस प्रवक्ताओं की क्लास...पुनिया करेंगे बिलासपुर का दौरा..राहुल के कार्यक्रम की लेंगे जायजा

आयुक्त गृह निमार्ण मंडल  सिद्धार्थ कोमल सिंह परदेशी ने अपने बिलासपुर प्रवास की चर्चा करते हुए कहा कि मेरा छत्तीसगढ़ आने पर पहला पड़ाव बिलासपुर हुआ। बिलासपुर स्टेशन से उतरकर मैने पहली पदस्थापना सरगुजा में ज्वाइन की थी। उसके बिलासपुर में कई पदों में कार्य करने का मौका मिला कवर्धा राजनांदगांव के बाद बिलासपुर में पुनः कलेक्टर के पद पर कार्य किया। मेरा बिलासपुर से विशेष लगाव है। यहाॅविषम परिस्थितियों में कार्य करते हुए मुझे हमेशा वरिष्ठ अधिकारियों का सहयोग मिलता रहा है। मेरी उपलब्धि में सबका सहयोग का योगदान है। मेरे जीवन में हर व्यक्ति का योगदान रहा है मैं उनके प्रति आभारी हूॅ। उन्होने कहा कि मेरे उपलब्धियों में मेरे माता-पिता एवं परिवार का उल्लेखनीय योगदान रहा है। उन्होने कहा कि छत्तीसगढ़ एक छोटा राज्य है। हम लोग आगे भी मिलते रहेंगें। अब कार्यक्षेत्र बढ़ गया है। उसमें बिलासपुर बिलासपुर भी है। मैं बिलासपुर से अभी भी जुड़ा हुआ हूॅं।  सिद्धार्थ कोमल सिंह परदेशी के आयुक्त छ.ग. गृह निर्माण मंडल में पदोन्नति के बाद आयोजित उक्त कार्यक्रम में संभाग के सभी वरिष्ठ अधिकारियों के साथ अतिरिक्त कलेक्टर  जे.पी मौर्य, श्रीमती बोरा, श्रीमती गार्गी परदेशी, वनसंरक्षक, सभी वनमंडलाधिकारी, सभी एस.डी.एम कमान्डेन्ट,  अंकित गर्ग, सभी तहसीलदार एवं जिले के सभी वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन  एल.के.पाण्डे एवं आभार प्रदर्शन  निर्मल तिग्गा ने किया।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS