मेरा बिलासपुर

पर्व के दौरान डी जे पर रहेगी पाबंदी

Shanti samiti)

बिलासपुर  ।     नवरात्रि, दशहरा एवं मोहर्रम पर्व शांति एवं सद्भावना से मनाने की अपील जिला शांति समिति द्वारा की गई है। समिति के निर्णय अनुसार इन पर्वों के दौरान डीजे पर पूर्णतः प्रतिबंध लगाने का निर्देश कलेक्टर ने दिया है। मंथन सभाकक्ष में आयोजित शांति समिति की बैठक में सदस्यों ने प्रस्ताव किया कि डीजे के उपयोग से आम जनता को होने वाली परेशानी को देखते हुए इस पर तत्काल प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए।

कलेक्टर ने कहा कि डीजे से बुजुर्ग, बच्चों और हृदय के रोगियों को बहुत परेशानियां होती है। इसलिए नवरात्रि के प्रारंभ से अंत तक इस पर प्रतिबंध लगाया जायेगा। उन्होंने कहा कि रतनपुर पदयात्रा के दौरान भी डीजे का उपयोग नहीं करने दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि प्रशासन दुर्गा पण्डालों के विरूद्ध नहीं है किन्तु दुर्गा पण्डालों के कारण सड़क बंद न हो और आवागमन प्रभावित न हो। इसके हिसाब से पण्डाल की व्यवस्था बनाई जाये। बैठक में निर्णय लिया गया कि शहर के विभिन्न स्थानों पर लगाये जा रहे दुर्गा पण्डालों के निरीक्षण के लिए एक टीम गठित की जायेगी, जो दुर्गा समितियों से चर्चाकर पण्डाल के स्थान तय करने में मदद करेगी। कलेक्टर ने दुर्गा पण्डालों में स्वच्छता कायम रखने के लिए शांति समिति से सहयोग की अपील की। उन्होंने कहा कि समितियों से भी आग्रह करें कि प्लास्टिक के कप-गिलास, प्लेट के स्थान पर दोना-पत्तल का उपयोग करें और सभी पण्डालों में कचरा के लिए व्यवस्था बनाये। बीच सड़कों पर प्रसाद बाटने की व्यवस्था भी बंद करें इसके कारण भी यातायात में बहुत बाधा उत्पन्न होती है। पुलिस अधीक्षक श्री अभिषेक पाठक ने कहा कि पर्व जनता के हैं, लेकिन जोश-जोश में अनेक बार अप्रिय स्थितियां निर्मित होती है। शहर में शांति व्यवस्था को बरकरार रखने के लिए समिति के सदस्यों का सहयोग आवश्यक है।
समिति के सदस्यों से चर्चा कर निर्णय लिया गया कि दुर्गा विसर्जन 23 अक्टूबर को और ताजिया विसर्जन 24 तारीख को किया जाये। दुर्गा विसर्जन यदि 23 अक्टूबर को न हो पाये तो 25 अक्टूबर को विसर्जन किया जा सकता है। इससे शहर में व्यवस्था बनी रहेगी और आम जनता को भी परेशानी नहीं होगी। समिति के सदस्यों ने मांग रखी कि मोहर्रम के साथ-साथ दुर्गा विसर्जन के दिन भी शराब बिक्री पर रोक लगाई जाये। कलेक्टर ने उनके इस प्रस्ताव को शासन स्तर पर अवगत कराने की बात कही। इन पर्वों के दौरान अस्पतालों में चिकित्सा व्यवस्था, बिजली की व्यवस्था तथा पेयजल की व्यवस्था दुरूस्त रखने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए गये।
बैठक में अतिरिक्त कलेक्टर  जे.पी. मौर्य,  नीलकण्ठ टेकाम, सिटी मजिस्ट्रेट  एस.पी. वैद्य, नगर सेनानी  अशोक वर्मा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक  प्रशांत कतलम, यातायात डीएसपी श्रीमती मधुलिका सिंह, एसडीएम  क्यू.ए.खान, समिति के सदस्यगण  बेनी गुप्ता,  शशिकांत कोन्हेर, फिरोज कुरैशी, हबीब मेमन, शेख गफ्फार, शेखर मुदलियार, अर्जुन भोजवानी, नरेन्द्र बोलर सहित अन्य सदस्यगण एवं संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS