पीएम ने लॉंच किया नया ऐप,कहा-दुनिया के लिए होगा अजूबा

650_1_636187142456976524♦पीएम ने लॉंच किया मोबाइल ऐप BHIM
♦इंटरनेट के बगैर भी होगा पेमेंट

नईदिल्ली।राजधानी दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में शुक्रवार को लकी ग्राहक योजना का पहला लकी ड्रॉ हुआ।इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने डिजिटल पेमेंट्स को आसान बनाने के लिए मोबाइल ऐप BHIM लॉन्च किया है।इस ऐप का नाम डॉक्टर भीमराव अंबेडकर के नाम पर ‘भीम’ रखा गया है।इस मौके पर उन्होंने कहा कि तकनीक अमीरों का ही नहीं गरीबों का भी खजाना है।पीएम ने यह भी कहा कि बाबा साहब बहुत महान अर्थशास्त्री थे। उनके विचारों का परिणाम ही था कि देश में केंद्रीय बैंक रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) की शुरुअात हुई।

                                             प्रधानमंत्री ने कहा कि अब आपका अंगूठा ही आपका बैंक बनने जा रहा है।यह यूपीआई (यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस) और यूएसएसडी (अनस्ट्रक्चर्ड सप्लीमेंट्री सर्विस डेटा) का नया वर्जन है। भीम ऐप की सबसे बड़ी बात यह है कि इसके जरिए इंटरनेट के बिना भी पेमेंट किया जा सकेगा।

                                         प्रधानमंत्री ने देशवासियों से कहा, ‘भीम आपके परिवार का आर्थिक महाशक्ति बनने वाला है। यह साधारण से साधारण लोगों को गांव के महाजनों के पास जाने से जाने से रोकेगा।’ मोदी ने कहा, ‘ऐसा इसलिए संभव होगा कि धोबी-नाई जैसों के लेनदेन का भी ट्रैक रिकॉर्ड उसके मोबाइल में ही होगा जिसे बैंकों को दिखाकर वह लोन की मांग कर सकेगा।

                                           बैंक भी उसके रोजाना के ट्रांजैक्शन को देखकर तुरंत लोन का आवेदन स्वीकार कर लेगा और मिनटों में उसके खाते में रुपये आ जाएंगे।’जंगलों में रहने वाले आदिवासियों के लिए संघर्ष किया. इसीलिए, इस तरह की नई शुरुआत का नाम बाबा साहब के नाम पर रखा गया. भीम ऐप दुनिया के लिए अजूबा होगा।

                                  मोदी ने कहा कि आशावादियों के लिए हजार मौके हैं।उन्‍होंने देश की डिजिटल ताकत के बारे में कहा कि ईवीएम क्रांति लाने का वाला देश भारत है. साथ ही जोड़ा कि आशावादियों के लिए हजार मौके हैं जबकि कुछ लोगों का जीवन ही निराशा से शुरू होता है।

                                 पीएम ने चिदंबरम पर चुटकी लेते हुए कहा कि पहले की सरकारों में घोटालों की खबरें होती थीं. अब ऐसा नहीं होता है. उन्‍होंने कहा कि एक नेता ने कहा कि नोटबंदी का कदम खोदा पहाड़ और खोजी चुहिया जैसा है. पीएम ने कहा कि उनको तो चुहिया ही निकालनी थी क्‍योंकि वही तो कुतर-कुतर कर सब खा जाती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *