पीटा, घसीटा और फिर चली लाठी…छात्र नेता गए जेल..एनएसयूआई का एलान प्रदेश व्यापी होगा आंदोलन

IMG-20170823-WA0006बिलासपुर——दोपहर 12 बजे एनएसयूआई पश्चिम विधानसभा अध्यक्ष और दक्षिण विधानसभा अध्यक्ष बब्बीकृषणा सोनकर के नेतृत्व में रविवि गेट के सामने रोड पर छत्रसंघ चुनाव कराने को लेकर चक्काजाम किया।  बिना बातचीत और संवाद किये पुलिस ने छात्रों पर बेरहमी से लाठियां बरसाई । लाठी चार्ज में कई छात्र घायल हो गए हैं। तीन छात्रों को गम्भीर रूप से चोट पहुंची है। बावजूद इसके एनएसयूआई कार्यकर्ता पुलिस लाठी के सामने टस से मस नहीं हुए। सरकार और रविशंकर विश्वविद्यालय प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। छात्रों की  बेरहमी से पीटते हुए गिरफ्तार किया गया। आतंकवादियों की तरह व्यवहार किया गया। कांग्रेस नेताओं ने सरकार की आलोचना करते हुए कहा है कि प्रदेश में लोकतंत्र नाम की कोई चीज नहीं रह गयी है।
                 एनएसयूआई पश्चिम विधानसभा अध्यक्ष विनोद कश्यप ने बताया कि हम अपनी मांग को लेकर गए। हमारी मांग लोकतांत्रिक तरीके से जायज थी। बावजूद इसके छात्रों के साथ पुलिस ने बर्बर व्यवहार किया। हमारा आंदोलन रूकने वाला नहीं है। रायपुर जिला अध्यक्ष अमित शर्मा ने बताया कि छात्रों के ऊपर बिना संवाद के मांगों को सुने बिना लाठीचार्ज किया जाना अंग्रेजी शासन की याद दिला दी है। जिसे भाजपा ने कभी लड़ा ही नहीं है।
                                      प्रदेश अध्यक्ष आकाश शर्मा ने बताया कि जलियावाला बाग की तरह निहत्थे छात्रों पर लाठियां बरसाई गयी। शासन इस प्रकार से आम छात्रों की आवाज को दबाने का प्रयास करेगा तो प्रदेश व्यापी आंदोलन किया जाएगा।
     आंदोलन प्रदर्शन में पश्चिम विधानसभा अध्यक्ष विनोद कश्यप , दक्षिण विधानसभा अध्यक्ष बब्बीकृषणा सोनकर,संकल्प मिश्रा, विवेक गड़ेवाल,हेमंत पाल प्रतीक शर्मा, योगेंद्र राजपूत, पीयूष राजपूत , निखिल बंजारी, देव, गौरव शर्मा, हर्ष शुक्ला, प्रभाकर, मांशुक,रवि सिंग, लोकनाथ,किशन,विकाश मिश्रा, सोनू,नीलू ठाकुर, सुमीत, तामेंद्र, दीपंकर, कुणाल शर्मा आदि सैकड़ो की संख्या में एनएसयूआई कार्यकर्ता मौजूद थे।

24 घंटे में रिहाई नहीं तो उग्र आंदोलन -आकाश शर्मा

                                            भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन के प्रदेश अध्यक्ष आकाश शर्मा ने बताया कि लड़ाई केवल राजधानी तक नही प्रदेश पर दोगुनी ताकत से होगी। छात्र नेता प्रदेश के सभी कॉलेजों में विरोध प्रदर्शन करेंगे। मुख्यमंत्री के खिलाफ छात्र मुखर होकर सीधी लड़ाई लड़ेंगे।  इस दौरान निर्दयी पुलिस- प्रशाशन से किसी भी प्रकार की ओपचारिकता नही की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *