पुलिस ऑपरेशन..घर लौटी मुस्कान

CIVIL LINE THANAबिलासपुर—-आपरेशन मुस्कान अभियान में बिलासपुर पुलिस ने बिछड़ी बेटी को माता पिता से मिलाया है। पिता के दोस्त ने 6 साल की मुस्कान को कानन पेंडारी घुमाने के बहाने दमोह ले गया। जरहाभाठा निवासी मुस्कान बंजारे पिता संतोष बंजारे 16 अगस्त को घर से गायब हुई थी। सिविल लाइन थाने में मुस्कान के गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज है।

                       जानकारी के अनुसार जरहाभाठा निवासी संतोष बंजारे की 6 साल की बेटी  मुस्कान 16 अगस्त को घर से अचानक गायब हो गयी। आस पास खोज खबर के बाद संतोष बंंजारे ने सिविल लाइन थाना पहुंचकर गुमसुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई। मुस्कान की खोज में जुटी पुलिस को मध्यप्रदेश दमोह स्थित बाल कल्याण आश्रम से फोन आया कि बिलासपुर की एक बच्ची दमोह पहुंच में है।

                                बाल आश्रम के अधिकारियों ने शिनाख्त के लिए सिविल लाइन पुलिस को फोटो भी भेजा। फोटों मिलते ही थाना प्रभारी ने बच्ची के माता-पिता से सम्पर्क किया। संतोष ने बताया कि फोटो मुस्कान की ही है। सिविल लाइन पुलिस के निर्देश पर पुलिस टीम मुस्कान को लेने दमोह गयी। पूछताछ में बच्ची ने बताया कि उसे संतोष बंजारे के दोस्त बड़कू ने कानन पेंडारी घूमाने के बहाने बस में बैठाया। बाद में उसे दमोह लेकर आ गया।

                              पुलिस के अनुसार संतोष बंजारे के दोस्त बड़कू ने मुस्कान को दमोह बस स्टैण्ड में छोड़ दिया। इस बीच बच्ची को स्थानीय पुलिस ने पकड़कर बाल अाश्रम के हवाले कर दिया। पूछताछ के बाद बाल आश्रम के अधिकारियों ने बिलासपुर सिविल लाइन थाने से सम्पर्क किया।

               पुलिस ने बताया कि बच्ची स्वस्थ्य है। उसे परिजनो को सौंप दिया गया है। मुस्कान के पिता संतोष ने बताया कि वह रोजी मजदूरी का काम करता है। बड़कू बिहार का रहने वाला है। उसने अपने घर का एक कमरा बडकू को किराये पर दिया था। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार बड़कू की तलाश की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *