मेरा बिलासपुर

पुलिस ने दिया पुतला दहन का मौंका…मायूस हुए कांग्रेसी

IMG-20151024-WA0013बिलासपुर— जिला कांग्रेस कमेटी ने पीसीसी के निर्देश पर आज उद्योगपतियों पर स्टाम्प ड्यूटी में रियायत दिये जाने का विरोध किया है। जिला कांग्रेस कमेटी ने आज प्रदेश सरकार के मुखिया का पुतला दहन कर आक्रोश जाहिर किया है। मजेदार बात यह रही कि जब कांग्रेस ने पुतला दहन कर दिया। इसके पास पुलिस मौके पर पहुंची।

             कोल आवंटन मामले में उद्योपतियों को स्टाम्प ड्यूटी छूट के खिलाफ आज नेहरू चौक पर प्रदेश के मुखिया का पुतला दहन किया। जिला कांग्रेस के नेताओं ने इस दौरान प्रदेश सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि एक तरफ प्रदेश में सूखा है। प्रदेश सरकार उद्योगपतियों को खुश करने के लिए किसानों के तीन सौ करोड़ देने का एलान किया है। कांग्रेसियों ने कहा कि सरकार उद्योगपतियों को खुश करने के लिए विधानसभा में विधेयक लाने का निर्णय लिया है।

         जिला कांग्रेस ग्रामीण अध्यक्ष राजेन्द्र शुक्ला ने कहा कि रमन सिंह के पास किसानों के लिए समर्थन मूल्य और बोनस की राशि नहीं है। ऐसे में स्टाम्प ड्यूटी में छूट देकर विधेयक लाना सरकार की संवेदनहीनता को जाहिर करता है। राजेन्द्र शुक्ला ने कहा कि किसान दाने दाने को मोहताज हैं लेकिन अभी तक राहत का काम शुरू नहीं हुआ है। ऊपर से गरीबों के पेट काटकर सरकार पूंजीपतियों को खुश करने का प्रयास किया जा रहा है। शुक्ला ने कहा कि कांग्रेस पार्टी इसका ना केवल विरोध करती है। बल्कि जरूरत पड़ी तो उग्र आंदोलन भी करेगी।

                                 शहर कांग्रेस अध्यक्ष नरेन्द्र बोलर ने संबोधित करते हुए कहा कि जशपुर में पहाड़ी कोरवा भूख से मर रहे हैं। किसी के पास राशन कार्ड नहीं है। आदिवासी समाज कंदमूल खाकर जी रहा है। प्रदेश की जनता भूख से बिलबिला रही है। चारो तरफ त्राहि त्राहि मची हुई है। बावजूद इसके प्रदेश सरकार की आंख नहीं खुल रही है। तानाशाही की हद हो गयी। गरीब मरे तो मरे लेकिन खजाना पूंजीपतियों के लिए ही खोला जाएगा। बोलर ने कहा कि पूंजीपतियों के लिए तीन सौ करोड़ रूपए का शुल्क माफ कर दिया जाता है। इसके लिए विधेयक लाया जा रहा है। संवेहनहीन सरकार को किसानों और गरीबों की कोई चिंता नहीं है।

विकास भवन में कांग्रेसियों का हंगामा...हॉकरों ने लगायी न्याय की गुहार

                 इस दौरान उपस्थित नेताओं ने प्रदेश सरकार और मुखिया के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। पुतला दहन के दौरान कोई भी पुलिस अधिकारी मौजूद नहीं था। कांग्रसियों ने इत्मीनान से प्रदेश के मुखिया का पुतला फूंका। जैसे ही पुतला दहन का रस्म खत्म हुआ पुलिस भी  पहुंच गयी। इस दौरान उन्हें केवल राख ही हासिल हुआ। वहीं कांग्रेसियों को भी पुतला दहन का सुख हासिल नहीं हुआ। छीना झपटी नहीं होने से निराश कांग्रेसियों ने समय पर नहीं पहुंचने को लेकर पुलिस विभाग की जमकर खिंचाई की।

           पुतला दहन कार्यक्रम में राजेन्द्र शुक्ला,नरेन्द्र बोलर,निगम कांग्रेस पार्षद प्रवक्ता,शैलेन्द्र जायसवाल, नेता प्रतिपक्ष निगम शेख नजरूद्दीन,सुभाष सिंह ठाकुर और अन्य नेता उपस्थित थे।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS