मेरा बिलासपुर

पूरा हुआ बैंक का कोरम… दो संचालकों का होगा चुनाव

SAHKARITA_GRADE_VISUAL 003बिलासपुर—जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक चुनाव नामांकन वापस लेने के बाद अब मैदान में 11 सदस्य रह गये हैं। इनमें से 9 सदस्यों ने निर्विरोध जीत हासिल किया है। 2 सितम्बर को बिल्हा और पथरिया ब्लाक संचालक पद के लिए चुनाव होगा। इस बीच सबसे बड़ी खबर कि दुरपा आदिवासी सहकारी समिति से पूर्व चेयरमैन देवेन्द्र पाण्डेय के नामांकन को अवैध कर दिया गया है।

                                                पाण्डेय पर आरोप है कि अनपे कार्यकाल के दौरान उन्होंने भारी अनियमितिता और भ्रष्टाचार को बढ़ावा दिया है। उन पर बैंक नियमों के विपरीत काम करते हुए अपनों को लाभ पहुंचाने का काम किया है। इस आधार पर 24 तारीख को शिकायत के बाद कोरबा उप-पंजीयक ने उनकी सदस्यता और नामांकन को रद्द कर दिया है।

                  दो अगस्त को जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के लिए मात्र बिल्हा और पथरिया के लिए चुनाव होगा। बैंक में 21 संचालक सदस्यों का चुनाव होना था। लेकिन पर्याप्त नामांकन दाखिल नहीं हुए। 21 पदों के लिए 28 नामांकन फार्म जमा हुए थे। इसमें से 13 नामांकन पत्रों को अवैध पाया गया।

               जिला सहकारी बैंक निर्वाचन अधिकारी डी.आर.ठाकुर ने बताया कि मत्तूलाल पोर्ते मस्तरी अनारक्षित,जतिराम साहू तखतपुर अन्य पिछड़ा वर्ग,बलराम पटेल डभरा अन्य पिछड़ा वर्ग,गाड़ा राम देवांगन बम्हनीडीह सक्ती अन्य पिछड़ा वर्ग,केदीराम बलौदा अन्य पिछड़ा वर्ग,जगतराम कश्यप जैजेपुर अन्य पिछड़ा वर्ग,देवनाथ सिंह राठिया करतला-पाली.अनुसूचित जन जाति, संतोषी बाई देवांगन अनारक्षित महिला,मुन्नाराम राजवाड़े अनारक्षित निर्विरोध चुने गए हैं। इनका नामांकन भी सही पाया गया है। ठाकुर ने बताया कि बिल्हा और पथरिया में दो सितम्बर को मतदान होगा। इसी दिन परिणाम भी घोषित दी जाएगी । उन्होंने बताया कि 11 सदस्य होने के कारण बैंक का कोरम पूरा हो गया है। अब बाकी 10 सदस्य सामायोजन के आधार पर चुने जाएंगे।

अवैध उत्खननः जिला पंचायत सभापति का आरोप..सरपंच और सचिव के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग

                 जिला निर्वाचन अधिकारी के अनुसार मुंगेली पथरिया से अनारक्षित संचालक सदस्य पद के लिए दो नाम सामने आए हैं। उनका नामांकन भी वैध पाया गया है। प्रकाश सिंह और रामकमल सिंह के बीच चुनाव होगा। इसी तरह बिल्हा में अम्बिका प्रसाद तिवारी और त्रियोगी नारायण शर्मा चुनाव लडेंगे।

                बताया जा रहा है कि देवेन्द्र पाण्डेय की सदस्यता और नामांकन रद्द करवाने में भाजपा के बड़े नेताओं का हाथ है। कयास लगाया जा रहा है कि इस बार बिल्हा से ही कोई प्रत्य़ाशी बैंक का चेयरमैन बन सकता है। जानकारी के अनुसार संगठन के बड़े नेता का बिल्हा प्रत्याशी को विशेष आशीर्वाद मिल चुका है।

विकासखण्ड मुंगेली पथरिया—अनारक्षित

     नाम                                                                         चिन्ह

1, प्रकाश सिंह पिता चन्द्रभान सिंह——————— फूल

2,राम कमल सिंह पिता चन्दन सिंह——————- बैल

विकासखण्ड बिल्हा—अनारक्षित

1, अम्बिका प्रसाद तिवारी पिता स्व.जनकराम तिवारी….. फूल

2, त्रियोगी नारायण शर्मा पिता स्व.मनोहर लाल शर्मा…….बैल

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS