पूर्व उपराष्ट्रपति के बयान की चहुंओर निंदा..मुस्लिम नेता ने कहा..देश को लगा धक्का

hamid ansariबिलासपुर— भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा ने पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी के बयान की निंदा की है। भाजपा अल्पसंख्यक जिला प्रकोष्ठ के अध्यक्ष युसूफ बरकाती ने कहा कि हामीद अंसारी के बयान से देश की एकता अखंडता को झटका लगा है। इस प्रकार का बयान देश को बंटवारा करने की तरफ इशारे करते हैं।
डाउनलोड करें CGWALL News App और रहें हर खबर से अपडेट
https://play.google.com/store/apps/details?id=com.cgwall
                 पूर्व उपराष्ट्रपति हामीद अंसारी के राज्यसभा में अंतिम और बिदाई भाषण की जिला अल्पसंख्यक मोर्टा प्रकोष्ठ ने कठोर निंदा की है। प्रेस नोट जारी कर युुसुप बरकाती ने कहा कि हामीद अंसारी का बयान उनकी छिपी गलत मानसिकता को जाहिर कर दिया है। उन्होने अपने भाषण में किस आधार पर कहा कि देश का मुसलमान डरा सहमा महसूस कर रहा है। बयान कि निंदा करते हुये बरकाती ने कहा कि देश विगत कई वर्षो से उपराष्ट्रपति रहने के बाद बिदाई भाषण में ऐसा बयान उनकी काली मानसिकता को जाहिर करता है।ऐसे बयान से विश्व में भारत के प्रति नकारात्मक संदेश गया है।
              बरकाती ने कहा कि ऐसी मानसिकता से ही देश बटता है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सबका साथ सबका विकास जैसी सोच के साथ समूचे हिन्दुस्तान लेकर चल रहे हैं। वहीं आज भी कुछ लोग धर्म के आधार पर देश में अराजकता का माहौल बना रहे है।
                                     अपनी प्रतिक्रिया में बरकाती ने बताया है कि मोदी युग में मुसलमानों का विकास तेजी से हो रहा है। केन्द्र और राज्य की भाजपा सरकार ने अनेक योजना बनाई है। योजनाओं का मुसलमानों को फायदा भी मिल रहा है। पढो परदेस, स्कील डेवलंपमेंट, अल्पसंख्यकों के लिए नई रौशनी योजना, उस्ताद योजना  मोदी की सोच है। प्रधानमंत्री चाहते हैं कि मुस्लिम समाज का बच्चा एक हाथ में पवित्र कुरआन और दूसरे हाथ में कम्प्यूटर का ज्ञान लेकर देश, समाज का नाम रौशन करे। मदरसों का आधुनिकीकरण भाजपा सरकार ही कर रही है। मुसलमान अब समझ गया है कि भाजपा वोंट बैंक की राजनीति नहीं करती है। देशवासियों की आर्थिक समाजिक स्थितियों में किस प्रकार से सुधार हो…भाजपा सरकार की बस यही चिन्ता है।
                बरकाती के अनुसार पिछले 6 दशकों से मुसलमानों का शोषण किया गया। इस दौरान मुसलमानों को केवल मजदूर, पंचर वाला, कूली कबाड़ी, गंदी बस्तियों में रहने के लायक बनाया गया। अब जब मुसलमानों की आर्थिक, समाजिक विकास तेजी से हो रहा है उस समय हामीद अंसारी का इस तरह का बयान उनकी कुंठित मानसिकता को जाहिर करता है। बरकाती ने बताया कि अभी अभी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मुस्लिम समुदाय के बच्चियों को 10-12वीं में 51000 रूपये राशि देने की घोषणा की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *