पूर्व सांसद के इलाज में लापरवाही…. कांग्रेसियों का सिम्स में हल्ला बोल… डीन ने कहा- फिर नहीं होगी ऐसी घटना

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ आयुर्विज्ञान संस्थान (  सिम्स )  में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता  और पूर्व सांसद गोंदिल प्रसाद अनुरागी के इलाज के दौरान लापरवाही और गैर जिम्मेदाराना व्यवहार को लेकर कांग्रेस के लोगों ने शनिवार को छत्तीसगढ़  सिम्स में धावा बोला ।इस दौरान कांग्रेसियों ने सिम्स की व्यवस्था को लेकर भारी आक्रोश जताया। साथ ही पूर्व सांसद के साथ किए गए व्यवहार की कड़ी निंदा की। इस मौके पर कांग्रेसियों से मिलने आए सिम्स के प्रभारी डीन और अधीक्षक  डॉक्टर रमणेश  मूर्ति ने  घटना की नैतिक जवाबदारी  स्वीकार करते हुए  कांग्रेसियों से इसके लिए माफी भी मांगी।

जैसा कि मालूम है की पूर्व सांसद गोदिल प्रसाद अनुरागी को तबीयत बिगड़ने पर उनके परिजन 1 मार्च को सिम्स लेकर गए थे। सिम्स प्रबंधन ने उनके साथ लापरवाही पूर्वक गैर जिम्मेदाराना व्यवहार किया और एक जर्जर बेड में डाल दिया। कैजुअल्टी वार्ड में तैनात चिकित्सकों ने उन्हें स्ट्रेचर तक मुहैया नहीं कराया। जिससे उनके परिजन को ङी श्री अनुरागी को ले जाना पड़ा।  मीडिया में खबर आने के बाद इस घटना को लेकर सिम्स प्रबंधन की काफी किरकिरी हुई।  इस मामले में आक्रोशित कांग्रेसी शनिवार को सिम्स पहुंचे ।कांग्रेसियों ने सिम्स के मेन गेट पहुंचकर जोरदार नारेबाजी की और आक्रोश जताया । मौके पर पहुंचकर CSP और टीआई कोतवाली ने कांग्रेसियों को गेट पर रोककर मामले में चर्चा करने के लिए सिम्स के अधिकारियों को गेट पर ही बुलवा लिया ।सिम्स गेट पर प्रभारी डीन अधीक्षक डॉ रमणेश मूर्ति और उनके सहयोगी चिकित्सकों  ने कांग्रेसियों से मिलकर बातचीत की। कांग्रेस की ओर से अभय नारायण राय और विजय पांडे ने सवाल किया कि अखबारों में छपी अनुरागी जी की तस्वीर देखकर आप क्या टिप्पणी करना चाहेंगे….? इस पर डॉक्टर रमणेश  मूर्ति ने विनम्रता से कहा की प्रभारी डीन और अधीक्षक होने के नाते वह  नैतिक जिम्मेदारी लेते हैं। उन्होंने शर्मिंदगी जाहिर करते हुए क्षमा याचना भी की ।उन्होंने भरोसा दिलाया आने वाले समय में किसी भी बुजुर्ग मरीज के साथ इस तरह की घटना नहीं होगी।

बातचीत के बाद कांग्रेसियों के प्रतिनिधिमंडल ने चेतावनी दी कि  भविष्य में ऐसी घटना  दोबारा नहीं होनी चाहिए। प्रतिनिधिमंडल ने इसके पहले भी  महिला के साथ डॉक्टर द्वारा की गई मारपीट की घटना का भी जिक्र किया और कार्यवाही की मांग की । कांग्रेसियों ने इस बात पर जोर दिया कि सिम्स और  जिला अस्पताल में ही गरीबों का इलाज संभव हो पाता है । लिहाजा यहां संवेदनशीलता होनी चाहिए । प्रतिनिधि मंडल में कांग्रेस नेता शेख गफ्फार, शिवा मिश्रा, महेश दुबे, शेख नसीरुद्दीन, तैयब हुसैन, दीपांशु श्रीवास्तव ,जावेद मेमन, लक्की यादव, रामशरण यादव ,शैलेंद्र जायसवाल ,विनोद साहू वकार खान, विक्की अरबाज और अंकित बिसेन सहित कांग्रेस जन शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *