मेरा बिलासपुर

नेता प्रतिपक्ष ने रचा नया इतिहास— अजीत जोगी

IMG_20150901_175240बिलासपुर— गरीबों का आसूं पोछना किसने कहा गुनाह है। कांग्रेस के 130 साल के इतिहास में कभी ऐसा सर्कुलर नहीं जारी हुआ कि कोई नेता या विधायक अपने क्षेत्र से बाहर जाकर गरीबों का आसूं नहीं पोछेगा। यदि ऐसा हुआ है तो नेता प्रतिपक्ष ने कांग्रेस का नया इतिहास लिखने का प्रयास किया है।

                               मुझे नहीं मालूम कि प्रदेश अध्यक्ष ने इस तरह का कोई आदेश निकला है कि विधायक अपने क्षेत्र से बाहर जाकर जरूरत मंदों को सहारा नहीं दे सकते हैं। अमित जोगी कांग्रेस का सिपाही होने के नाते कहीं भी जा सकते है। गरीबों के आंसू पोंछ सकते है। क्या गरीबों का हमदर्द बनना गुनाह है..यह बातें अजीत जोगी ने आज बिलासपुर स्थित अमित जोगी के निवास मरवाही सदन में कही।

                               मरवाही सदन में पत्रकारों से चर्चा करते हुए अजीत जोगी ने  एक सवाल के जवाब में कहा कि भूमि अधिग्रहण बिल पर मोदी को मुंह की खानी पड़ी है। उन्होंने कांग्रेस का तैयार किया गया भूमि अधिग्रहण बिल पास कर दिया। इसके लिए कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने मिलकर लड़ाई लड़ी है। बिल पास होने से किसानों की जीत हुई है। साथ ही मोदी की हार भी । उन्होने कहा कि मोदी अपने हठ से पूंजीपतियों के लाभ के लिए अग्रेज कालीन रोलेट एक्ट की तरह भूमि अधिग्रहण के नाम पर काला कानून किसानों पर थोपना चाहते थे। जोगी ने बताया कि लोकतंत्र में कोई कितना भी बड़ा क्यों ना हो वह अपनी मर्जी नहीं कर सकता है। यदि कोई अपनी मनमानी करेगा तो उसका हाल मोदी जैसा ही होगा।

निकाय आय का स्रोत जनरेट करें..अमर

             मोदी मन की नहीं धन की बात करते हैं के सवाल पर जोगी ने कहा कि चुनाव के पहले मोदी कहा करते थे प्रधानमंत्री बनने के बाद पाकिस्तान को सबक सिखाऊंगा,चीन को अरूणाचल में घुसने नहीं दूंगा, महिलाओं पर अत्याचार नहीं होने दूंगा,महंगाई को भारत से  भगाऊंगा, मैं छप्पन इंच का सीना रखता हूं विदेशों से कालाधन वापस लाऊंगा।  लेकिन प्रधानमंत्री बनते ही अडानी को आष्ट्रेलिया में 16 करोड़ का फायदा दिया। इसी तरह अन्य पूंजीपतियों के आश्रयदाता बने। महंगाई बेलगाम हो गयी है पाकिस्तान के सामने मुंह बंद हो गया। चीन अभी भी आंखे दिखा रहा है। सच्चाई यह है कि मोदी अब मन की नहीं सिर्फ धन की बात कह रहे हैं।

                   जोगी ने बताया कि महंगाई के खिलाफ कांग्रेस को जितनी शिद्दत के साथ विरोध करना चाहिए उतना नहीं किया। लेकिन इसका अर्थ यह नहीं है कि कांग्रेस ने विरोध नहीं किया। अभी भी कर रहा है। आगे भी करता रहेगा।

             जोगी ने कमजोर मानसून और किसानों की स्थिति पर चिंता जाहिर करते हुए कहा कि प्रदेश में आकाल के हालात हैं। सरकार ने इससे निपटने के लिए कोई प्रबंध नहीं किया है। उन्होंने कहा कि आई अप्रेजल तक तैयार नहीं किया गया है।  जोगी ने कहा कि जमीन फटने लगी है। किसान परेशान है। थरहे खेत से उखड़े नहीं है। सरकार हाथ पर हाथ रखे बैठी है। यदि समय के साथ छोटे स्तर पर थोडा बहुत प्रयास कर किसानों को पानी मिल जाता तो उनके सामने मरने की नौबत नहीं आती। लेकिन अब सब कुछ हाथ से निकल गया है। कलेक्टर को अभी तक राहत काम का आदेश नहीं मिला है। जो सरकार की नाकामी है।

सोशल मीडिया पर कार्यशाला..संयम और विश्वास पर चिंता

                   एक सवाल के जवाब में अजीत जोगी ने कहा कि अमित जोगी बेहतर काम कर रहे हैं। उन्हें जनता ने चुना है उनका काम है गरीबों का आंसू पोछे। उन्होंने धरमजयगढ़,कोरबा सरगुजा,झलियामाली,पोलावरम,मस्तूरी,मरवाही,सब जगह पहुंचकर गरीबों की आवाज बनकर कांग्रेस के लिए काम किया है। मै उनके काम से काफी संतुष्ट हूं। एक नेता को दायरा ना देखकर गरीबों के बारे में सोचना चाहिए।

                                अमित जोगी ने ना केवल ऐसा किया है बल्कि मरवाही से बाहर निकलकर गरीबों का आसूं पोछा भी है। उन्होंने कहा कि मेरा और कांग्रेस का मानना है कि कोई भी विधायक या जनता प्रदेश ही नहीं बल्कि देश में कहीं भी जाकर गरीबों की लड़ाई लड़ सकता है। मुझे नहीं मालूम प्रदेश अध्यक्ष ने विधायक को दूसरे क्षेत्र में जाने से क्यों प्रतिबंध लगाया है। सर्कुलर में क्या है इसकी जानकारी मुझे नहीं है। यदि नेता प्रतिपक्ष ने सर्कुलर जारी किया है तो उन्होंने कांग्रेस के 130 साल के इतिहास में नया अध्याय जोडा है। नया इतिहास लिखा है। जोगी ने अंत में पत्रकार के एक सवाल के जवाब में कहा कि बिलासपुर स्मार्ट सिटी की सूची में शामिल हो गया है। बनता कब है इंतजार करेंगे।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS