मेरा बिलासपुर

प्रदेश सरकार के खिलाफ कांग्रेस की हुंकार

IMG_20160122_144430बिलासपुर— प्रदेश कांग्रेस के निर्देश पर आज छत्तीसगढ़ के सभी ब्लाक और जिला स्तर पर कांग्रेसियों ने रैली निकाली। अंतागढ़ टेप काण्ड,आउटसोर्सिंग,सूखा राहत किसान आत्महत्या समेत फसल बीमा को लेकर सरकार के खिलाफ धरना प्रदर्शन किया। बिलासपुर कांग्रेस कमेटी ने गांधी चौक से नेहरू चौक तक रैली निकालकर सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। अंत जिला कार्यालय पहुंचकर जिला प्रशासन को राज्यपाल के नाम पर ज्ञापन भी सौंपा। इस दौरान भारी संख्या में कांग्रेसी नेता उपस्थित थे।

जिला कांग्रेस कमेटी ने आज गांधी चौक से नेहरू चौक तक रैली निकालते हुए राज्य सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। रैली के अंत में कांग्रेसियों ने एक सभा को संबोधित किया। कार्यक्रम के अंत में कांग्रेसियों ने कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर जिला प्रशासन को राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपते हुए राज्य सरकार को बर्खास्त करने की मांग की है।

रैली के बाद नेहरू चौक पर कांग्रेस की वरिष्ठ नेत्री करूणा शुक्ला,प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष पी.आर.खूंटे, पीसीसी महामंत्री अटल श्रीवास्तव,शहर अध्यक्ष  नरेन्द्र बोलर, संभागीय प्रवक्ता अभयनारायण राय ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रदेश को सरकार नैतिक रूप से इस्तीफा दे देना चाहिए। सभा को संबोधित करते हुए नेताओ ने कहा कि अंतागढ़ टेप काण्ड ने देश दुनिया में प्रदेश को बदनाम किया है। लोकतंत्र की हत्या हुई है। चुनाव के समय ही कांग्रेस के आला नेताओं ने अंतागढ़ को लेकर शिकायत की थी। लेकिन आयोग ने शिकायत को गंभीरता से नहीं लिया। बाद में सारा मामला सामने आया। इसमें कांग्रेस के एक बड़े नेता ने पार्टी को बदनाम किया। खबर को सत्य मानते हुए कांग्रेस ने कार्रवाई करने में एक पल की भी देरी नही की। लेकिन प्रदेश सरकार ने अपने रिश्तेदार और मंत्री पर अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की है। ऐसी सरकार को सत्ता में रहने का अधिकार नहीं है।

Gallina_b book of ra deluxe slot machine gratis

करूणा शुक्ला,पीआर खूंटे और अटल ने कहा कि मंतूराम पंवार के पास इतनी संपत्ती कहां से आई। इसकी जांच होनी चाहिए। दलालों का कांग्रेस में कोई स्थान नहीं है। प्रदेश की जनता ने देख लिया है। लेकिन अब सरकार को बताना है कि उनके यहां ऐसे लोगों के खिलाफ क्या कार्रवाई होती है। करूणा ने कहा कि बीमा कंपनियों को लाभ पहुंचाने के लिए नई फसल बीमा की शुरूआत की गयी। प्रदेश में सूखे से अभी तक 53 किसानों ने आत्महत्या कर ली है। बीमा कंपनी कहां है किसी को पता नहीं है।

शहर अध्यक्ष नरेन्द्र बोलर ने कहा कि प्रदेश के बेरोजगार नौजवानों के हक को ठेकेदारों को दिया जा रहा है। शिक्षा और स्वास्थ्य में बाहरी लोगों की भर्ती की जा रही है। जाहिर सी बात है कि आरक्षण के नियमों की धज्जियां उड़ाई जा रही है। स्थानीय युवाओं और आदिवासी,दलित समाज की नौकरी छीनी जा रही है। कांग्रेस इसका विरोध करती है।

संभागीय प्रवक्ता अभय नारायण राय ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि कोयला और बिजली की रिकार्ड पैदावार करने वाली छत्तीसगढ़ की धरती को लूटा जा रहा है। महंगाई आसमान छू रही है। राहत कार्य अभी तक ठीक से चालू नहीं हुआ है। बिजली दर को दुगुना कर दिया गया है। उद्योगपतियों को मुफ्त में बिजली परोसी जा रही है। किसान आत्महत्या को मजबूर है। बावजूद इसके भाजपा सरकार को जनता की इन तमाम समस्याओं से कोई सरोकार नहीं है।

नेहरू चौक पर कांग्रेसियों ने अंतागढ़ टेप को आम जनता को सुनाया। इसके बाद सभी कांग्रेसी जिला प्रशासन को ज्ञापन दिया। साथ ही प्रदेश सरकार को बर्खास्त करने की मांग की है।

इन राज्यों में पुरानी पेंशन योजना लागू, लाखों कर्मचारियों को मिलेगा लाभ, जानें OPS और NPS में क्या है अंतर

इस मौके पर कांग्रेस के आला नेता करूणा शुक्ला,पीआर खूंटे,अटल श्रीवास्तव,नरेन्द्र बोलर,पंकज सिंह,रामशरण यादव,अभिषेक तिवारी,अभय नारायण राय,सुभाष सिंह ठाकुर,ऋषि पाण्डेय, हरमेन्द्र शुक्ला समेत कई नेता उपस्थित थे।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS