मेरा बिलासपुर

प्राचार्यों से सुनी समस्या..गुणवत्ता पर मांगा जवाब

IMG_20151208_150013बिलासपुर– नगर निगम शिक्षा प्रभारी और पार्षद व्ही.रामाराव ने आज बिलासपुर विधानसभा के सभी प्राचार्यों की मल्टीपरपज स्कूल में बैठक ली। इस दौरान जिला शिक्षा अधिकारी हेमंत उपाध्याय भी विशेष रूप से उपस्थित थे। बैठक में नगर विधायक अमर अग्रवाल के  विशेष प्रतिनिधि रामराव ने उपस्थित प्राचार्यों की संस्थाओं के लिए भौतिक जरूरतों और समस्याओं की जानकारी ली। उन्होंने बताया कि समस्याओं को जल्द से जल्द निराकरण किया जाएगा। लेकिन इसके बाद शिक्षा की गुणवत्ता से किसी प्रकार की लापरवाही बर्दास्त नहीं की जाएगी।

                          आज निगम शिक्षा प्रभारी व्ही.रामाराव ने बिलासपुर विधानसभा के सभी स्कूलों के प्राचार्य और प्राधनाध्यापकों के साथ बैठक ली। इस दौरान विधानसभा के 65 से अधिक स्कूलों के प्रमुख उपस्थित हुए। नगर विधायक के विशेष प्रतिनिधि रामराव ने स्कूल प्रमुखों से बारी बारी कर स्कूल संबधित समस्याओं को सुना। इस दौरान जिला शिक्षा अधिकारी हेमन्त उपाध्याय ने भी स्कूलों की आधारभूत जरूरतों को निगम शिक्षा प्रभारी के सामने रखा।

                  सीजी वाल से बातचीत के दौरान व्ही.रामाराव ने बताया कि स्थानीय विधायक और प्रदेश के केबिनेट मंत्री अमर अग्रवाल के निर्देश पर बैठक का आयोजन किया गया है। बैठक का मूल उद्देश्य विधानसभा के सभी स्कूलों की समस्याओं को सुनना और उसका निराकरण करना है। उन्होने कहा कि हमेशा से शिकायत मिलती रही है कि किसी स्कूल में आवश्यकता से अधिक छात्र छात्राएं हैं लेकिन वहां मूलभूत आवश्यकताओं का अभाव है।

                    रामाराव ने बताया कि स्थानीय विधायक का स्पष्ट निर्देश है कि स्कूलों की समस्याओं को गंभीरता से सुना जाए। समस्याओं को गंभीरता से लेते हुए उसका निदान भी किया जाए। इसलिए आज इस बैठक मे जिला शिक्षा अधिकारी भी उपस्थिति हैं। उन्होंने कहा कि ज्यादातर स्कूलों से अभी तक जो शिकायत सामने आयी हैं उनमें शाला भवन में कमरे की कमी, रंग रोगन,बिजली पानी स्टाफ समेत नए भवन की मांग है।  कहीं कहीं शिक्षकों की भी लापरवाही सामने आयी है। निगम शिक्षा प्रभारी ने बताया कि समस्याओं को मंत्री के सामने रखा जाएगा। उनकी समस्याओं को प्राथमिकता के आधार पर दूर भी किया जाएगा। रामाराव ने बताया कि इसके बाद भी यदि शैक्षणिक गतिविधियों में कहीं कमजोरी और कामचोरी की शिकायत आती है तो उसके जिम्मेदार स्कूल प्रमुख और शिक्षक होंगे।

महिला की उन्नति में भी पुरूष का हाथ...हर्षिता

                         जिला शिक्षाअधिकारी हेमन्त उपाध्याय ने बताया कि बैठक में स्कूलों की समस्याओं को गंभीरता से विधायक प्रतिनिधि ने लिया है। उम्मीद है कि स्कूलों की समस्याओं का शीघ्र निराकरण होगा। उन्होने बताया कि शैक्षणिक गतिविधियों को भी गंभीरता से लिए जाने की बात बैठक में हुई है।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS