मेरा बिलासपुर

प्राचार्य के खिलाफ छात्रों का हंगामा

7/3/2015 12:54 AMबिलासपुर—-शासकिय जमुना प्रसाद वर्मा महाविद्यालय के छात्र-छात्राओ ने प्रवेश तिथी बढाने और परीक्षा परिणाम को लेकर जमकर हंगामा मचाया। छात्राओं ने प्रबंधन पर परीक्षा में कम अंक देने का आरोप लगाया है। पूर्व छात्र नेता को गुंडा कहे जाने पर आक्रोश जाहिर करते हुए महाविद्यालय के छात्रों ने प्राचार्य से माफी मांगने को कहा है।

                   अप्रत्याशित परीक्षा परिणाम और प्राचार्य के पूर्व छात्र नेता पर बयानबाजी से नाराज एसबीआर के छात्रों ने आज कालेज में जमकर हंगामा किया। जिसे देखते हुए कालेज के प्राचार्य ने पुलिस बल बुलवा लिया। कुछ ही देर में मामला और भड़क गया। पुलिस बल को देखते ही आंदोलन कर रहे छात्र मुख्यद्वार पर धरने पर बैठ गए और इस दौरान कालेज प्रवंधन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

                     छात्र नेता श्वैता यादव ने बताया कि कालेज प्रबंधन छात्रों के हितों को हमेशा से अनदेखी किया है। इस बार समाजशात्र में 23 में से मात्र 2 ही छात्र उत्तीर्ण हुए हैं। हमने जब इस मामले में प्राचार्य से मिलकर अपनी मांग को रखना चाहा तो उन्होंने अभद्र व्यवहार करते हुए केबिन निकाल दिया। साथ ही प्राचार्य ने पूर्व छात्र नेता के खिलाफ असंसदीय भाषा का प्रयोग करते हुए कहा कि किसी भी गुंडे को कालेज में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा।

                     श्वेता यादव ने बताया कि प्राचार्य सिर्फ अपनी मनमानी करते हैं। छात्र हितों का उन्हें जरा भी ख्याल नहीं है। सच्चाई तो यह है कि इस बार एसबीआर कालेज के समाजशास्त्र की कापियां किसी अयोग्य टीचर से जंचवाई गई है। जिसके कारण इस बार यहां का परिणाम खराब आया है। जब हम इस बारे में प्राचार्य से मिलना चाहा तो उन्होंने केबिन के अन्दर घुसने नहीं दिया। उल्टे पूर्व छात्र नेता के खिलाफ असंसदीय भाषा का प्रयोग किया।

सड़कों के गड्ढे भर जाएंगे 10 दिसंबर तक , मंत्री ताम्रध्वज ने कहा - खाली सरकारी ज़मीन पर कामर्शियल काम्पलेक्स बनाएगा PWD

                         सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार छात्र संगठन का चुनाव सिर पर है। जिसे देखते हुए यह हथकंडा अपनाया जा रहा है। छात्रों को अपनी ओर आकर्षित करने के लिए रोज नए छात्र नेता सामने आकर प्रबंधन के खिलाफ अनाप-शनाप बयानबाजी कर रहे हैं।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS