मेरा बिलासपुर

फार्म कालाबाजारी पर सीवायएसएस ने खोला मोर्चा

IMG-20151117-WA0002बिलासपुर—आम आदमी पार्टी की छात्र इकाई ने आज विश्वविद्यालय प्रशासन को फार्म की कालाबजारी पर रोक लगाये जाने की मांग की है। आप के स्टूडेंट विंग CYSS ने कुलपति के नाम लिखित शिकायत में बताया कि फार्म की कालाबाजारी होने से बिलासपुर विश्वविद्यालय की छवि धूमिल हो रही है। छात्र नेताओं ने विश्वविद्यालय प्रशासन से फार्म को आनलाइन करने की भी मांग की है।

                  बिलासपुर विश्वविद्यालय की आम आदमी पार्टी की छात्र विंग ने यूनिवर्सिटी प्रशासन से फार्म की कालबाजारी पर जल्द से जल्द रोक लगाने की मांग की है। सीवायएसएस के छात्र नेता शुभम साहू ने बताया कि फार्म की कालाबाजारी से गरीब छात्रों का बहुत अहित हो रहा है। आप नेता ने बताया कि कुछ पैसे वाले थोक में फार्म खरीदकर मनमाने दाम पर बेच रहे हैं। जिस फार्म की कीमत मात्र सौ रूपए है ब्लैक में उसे  दो हजार रूपए में बेजा जा रहा है।

                           आप नेता ने बताया कि कालाबजारी के चलते कई छात्रों का भविष्य अंधेरे में जाता हुए दिखाई दे रहा है। जिनके पास पैसे नहीं हैं उन छात्रों को  साल बरबाद होने की चिंता सताने लगी है। जबकि कई बार इस बात की  शिकायत विश्वविद्यालय के सामने छात्रों ने की है। बावजूद इसके प्रशासन ने अभी तक कोई कारगर कदम नहीं उठाया है।

                        सीवायएसएस नेता ने बताया कि इस समय परीक्षा तैयारी चल रही है। सेमेस्टर परीक्षा सिर पर है। ऐसे में फार्म नहीं मिलने से उनकी तैयारी प्रभावित हो रही है। आप छात्र नेताओं ने लिखित शिकायत कर रजिस्ट्रार से कहा कि जितनी जल्दी हो सके विश्वविद्यालय प्रशासन को इस पर सख्त कदम उठाना होगा। उन्होंने बताया कि कालाबाजारी में विश्वविद्यालय के कुछ कर्मचारी भी शामिल हैं।

रेल्वे मे हुआ "हिन्दी कार्यशाला" का आयोजन

                              इस मौके पर छात्र नेताओं ने परीक्षा को आनलाइन करने की मांग करते हुए कहा कि यदि यह सुविधा मिल जाती है तो कालबाजारी पर अंकुश लगेगा। शुभम् ने बताया कि यदि प्रशासन शिकायत के बाद भी सार्थक प्रयास नहीं करता है तो हम लोग छात्रों के साथ शांतिपूर्ण आंदोलन करते हुए इसकी शिकायत जिला और प्रदेश प्रशासन से करेंगे।

                        इस मौके पर आप नेता और सीवायएसएस के पदाधिकारी और कार्यकर्ता उपस्थित थे। रजिस्ट्रार अरूण सिंह ने मामले को गंभीरता के साथ लेने का आश्वासन दिया है।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS