फिरौती लेने आया इंंजीनियर गिरफ्तार…सवाई माधोपुर से आकर हॉटल में रूका था ब्लैकमेलर…पुलिस की बड़ी कार्रवाई

बिलासपुर—आनलाइन फ्रेन्डशिफ और लड़कियों को ब्लैकमेल कर रूपए ऐंठना युवा इंंजीनियर पर बिलासपुर पुलिस भारी पड़ गयी है। युवा ब्लैकमेलर इजीनियर राजस्थान राज्य के सवाई माधोपुर जिला का रहने वाला है। इंजीनियर का नाम विजय मीणा है। एडिश्नल एसपी नीरज चन्द्राकर ने बताया कि विजय एमटेक की पढ़ाई पूरी कर चुका है। पेशे से इंजीनियर होने के कारण  आनलाइन कम्प्यूटर का अच्छी खासी जानकरी रखता है। फेसबुक से लड़कियों की फोटो निकालकर पहले फोटोशाप करता था इसके बाद अश्लील फोटो बनाकर वायरल करने की धमकी देकर रूपए ऐंठता था।

                                                  फेसबुक पर लड़कियों से दोस्ती बढ़ाकर ब्लैकमेल करने वाले युवा इंंजीनियर को सीएसपी नसर सिद्धिकी की टीम ने बीती रात एक हाटल से धर दबोचा है। एडिश्नल एसपी नीरज चन्द्राकर ने बताया कि आरोपी इंजीनियर विजय मीणा राजस्थान के सवाई माथोपुर जिले का रहने वाला है। आरोपी इजीनियर फेसबुक पर लड़कियों से दोस्ती बढाकर ब्लैकमेल का काम करता था। सिविल लाइन थाने में एक लड़की ने शिकायत की थी कि राजस्थान का रहने वाला विजय मीणा फसबुक से फोटो निकालकर फोटोशाप के बाद अश्लील फोटो बनाकर फेसबुक पर वायरल करने की धमकी दे रहा है। बचने के लिए रूपयों की माग कर रहा है।

                  एडिश्नल एसपी नीरज चन्द्राकर ने बताया कि शिकायत के बाद सीएसपी नसर सिद्धकी की अगुवाई में आरोपी को पकड़ने के लिए विशेष रणनीति बनायी गयी। लड़की के फोन से विजय मीणा को पैसे लेने के लिए राजस्थान से बिलासपुर बुलाया गया। आरोपी विजय मीणा राजस्थान से सीधे सेन्ट्रल पाइंट होटल पहुंंचा। लड़की को रूपए लेकर हॉटल बुलाया।

                             लड़की से मिली जानकारी के आधार पर सीएसपी नसर ने हॉटल सेन्ट्रल पाइंट में बीती रात करीब 2 बजे  धावा बोला। आरोपी विजय मीणा को धर दबोचा। नसर के अनुसार पूछताछ के दौरान आरोपी युवक ने बताया कि पहले लड़कियों की लिस्ट तैयार करता था। इसके बाद सोशल मीडिया के माध्यम से सभी लड़कियों से संपर्क बनाकर बातचीत करता। किसी तरह लड़कियों की फोटो हासिल कर फोटोशाप के माध्यम से तस्वीरों को अश्लील स्वरूप में बदलता था।

           अश्लील फोटो तैयार होने के बाद लड़कियों को भेजता और वायरल करने की धमकी देता था। लड़कियां डर से रूपए देती थीं। नसर ने बताया कि पिछले दिनों सिविल लाइन थाने में विजय के खिलाफ एक युवती ने ब्लैकमेलिग की शिकायत की थी। पुलिस कप्तान के निर्देश पर एडिश्नल एसपी नीरज चन्द्राकर ने टीम का गठन किया। टीम ने छापामार कार्रवाई करते हुए बीती रात विजय को धर दबोचा।

                                    नसर सिद्धिकी ने बताया कि आरोपी इससे पहले भी कई युवतियों के साथ ब्लैकमेल कर चुका है। विजय मीणा के खिलाफ ब्लैकमेलिंग को लेकर तोरवा थाने में भी शिकायत दर्ज है। फिलहाल आरोपी से पूछताछ चल रही है। आरोपी से मोबाइल,लैपटाप और सामाग्रियों को बरामद कर लिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *