फोटो शेयर करने पर दर्ज होगी उपस्थिति…कलेक्टर ने कहा…लापरवाही बर्दास्त नहीं…आंगनबाड़ी केन्द्रों को बनाएंगे मॉडल

बिलासपुर—-कुपोषण दूर करने में किसी प्रकार की लापरवाही पर सख्त कार्रवाई होगी। कुपोषण से बचाने के लिए बच्चों और गर्भवती महिलाओँ को नियमित पोषणयुक्त आहार दिया जाए।मंथन सभागार में महिला एवं बाल विकास अधिकारियों की बैठक में कलेक्टर पी. दयानंद ने कहा आंगनबाड़ी केन्द्रों को मॉडल के रूप में विकसित करने का हर संभव प्रयास किया जाएगा। लेकिन सुपरवाइजरों आंको गनबाड़ी केन्द्रों में जाकर फोटो भेजना होगा। तभी उनकी उपस्थिति मानी जाएगी।

                    मंथन सभागार में कलेक्टर पी.दयानन्द ने महिला एवं बाल विकास कर्मचारी और अधिकारियों की जमकर क्लास ली है। कलेक्टर ने कहा कि कुपोषण खत्म करने में किसी भी स्तर पर लापरवाही हुई तो सख्त कार्रवाई होगी। कुपोषण के विरुद्ध सघन अभियान छेड़ने का एलान करते हुए कलेक्टर ने कहा कि कुपोषण पूरी तरह से खत्म करना शासन की प्राथमिकता है।  इसके लिए विकासखंड स्तर पर कमेटी बनाकर मॉनिटरिंग करने की सख्त जरूरत है।

                          कलेक्टर ने कहा कि सुपरवाइजर की जिम्मेदारी बनती है कि कुपोषित बच्चों को पोषण केंद्रों तक पहुंचाएं। बच्चों और गर्भवती महिलाओं को नियमित रूप से पोषणयुक्त आहार खिलाएं। कुपोषित बच्चों की सतत निगरानी में रखे। नियमित जांच पड़ताल करें। कलेक्टर ने बच्चों को अमृत दूध पिलाने को भी कहा। पी.दयानन्द ने सेक्टर सुपरवाईजर्स को निर्देश दिया कि आंगनबाड़ी केंद्र जाकर फोटो ग्रुप में शेयर करें। इसके बाद ही उपस्थिति दर्ज होगी।

        अधिकारियों से कलेक्टर दयानंद ने कहा कि सभी आंगनबाड़ी केंद्रों में खराब शौचालयों को ठीक कराया जाएगा।  जहां भी शौचालय नहीं हैं वहां जल्द ही शौचालय का निर्माण कराया जाएगा। आंगनबाड़ी केंद्रों को मॉडल के रूप में विकसित किया जाएगा। जिले के सभी आंगनबाड़ी केंद्रों में बिजली कनेक्शन की सुविधा होगी। कलेक्टर ने निर्देश दिया कि सभी आंगनबाड़ी केंद्रों में जल्द से जल्द गैस कनेक्शन दिया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *