बच्चे भी जुड़े पौधरोपण से , कमिशनर-महापौर ने बांटे पौधे

mahapaur

बिलासपुर । हरियर  छत्तीसगढ़ योजनान्तर्गत वृक्षारोपण महोत्सव के अवसर पर सोमवार को  नगर निगम की ओर से  स्कूली छात्र-छात्राओं एवं महिला स्व सहायता समूहों को 5 हजार पौधे वितरित किए गए। इस अवसर पर मुख्य अतिथि नगर निगम के महापौर  किशोर राय ने कहा कि वृक्षों का जीवन बढ़ाना और संरक्षण करना हम सभी का कर्तव्य है। संभागायुक्त  सोनमणि बोरा ने आने वाली पीढ़ी के लिए अधिक से अधिक वृक्षारोपण करने का अनुरोध किया। कार्यक्रम के पूर्व नगरीय प्रशासन, उद्योग एवं वाणिज्यिककर मंत्री  अमर अग्रवाल ने लालबहादुर शास्त्री प्रागंण में वृक्षारोपण कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इस अवसर पर महापौर  किशोर राय, संभागायुक्त  सोनमणि बोरा, आयुक्त नगर निगम श्रीमती रानू साहू, नगर निगम सभापति  अशोक विधानी ने वृक्षारोपण किया।
लालबहादुर शास्त्री स्कूल स्थित देवकीनंदन दीक्षित सभागृह में आयोजित उक्त कार्यक्रम में उपस्थित छात्र-छात्राओं को संबोधित करते हुए महापौर ने कहा कि प्रकृति हमारी जीवन दायिनी है। प्रकृति और मानव के बीच अटूट रिश्ता है। सभ्यता के विकास और बढ़ते हुए औद्योगिकीकरण से प्रकृति की उपेक्षा हुई, फलस्वरूप पर्यावरण प्रदूषण के दुष्परिणाम दिखाई देने लगे। लेकिन हम अब पुनः प्रकृति व पर्यावरण के लिए जागरूक हो रहे है। महापौर ने कहा कि प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी के मंशानुरूप हर व्यक्ति को चार पौधे लगाने और उसकी देखभाल की जवाबदारी लेनी चाहिए।
संभागायुक्त ने कहा कि प्रकृति और पर्यावरण के संतुलन के लिए वृक्षारोपण आवश्यक है। आने वाले समय को हरा-भरा रखने के लिए अभी से पर्यावरण की देखभाल करनी होगी। जिन वृक्षों को हम लगाने हैं, उनके लालन-पालन की जवाबदारी भी लेनी होगी। वृक्ष मित्र बनकर वृक्षों को जिंदा रखने का दायित्व निभाएं। श्री बोरा ने कहा कि वृक्ष हमारे जीवन का एक हिस्सा है। कुपोषण के खिलाफ लड़ाई, वन्यप्राणियों के भोजन, जमीन की स्थिरता एवं बेहतर पर्यावरण के लिए अधिक से अधिक फलदार वृक्षों का रोपण करना होगा। उन्होंनें हाइब्रीड और कलमी की जगह देशी पौधों के वृक्षारोपण पर जोर दिया। उन्होंने छात्र-छात्राओं से अनुरोध किया कि वे पेड़ अवश्य लगाएं तथा वृक्ष मित्र बनकर उन पेड़ों की देखभाल करें। नगर निगम आयुक्त श्रीमती रानू साहू ने स्वागत उद्बोधन देते हुए कहा कि विद्यार्थी अपने मन में यह बात अच्छी तरह बिठाएं कि उन्हे पर्यावरण संरक्षण में महत्वपूर्ण योगदान करना है। हर विद्यार्थी हर साल एक-एक पौधा लगाएं और उसकी अच्छी तरह देखभाल कर उन्हें बढ़ता हुआ देखें। कार्यक्रम में अतिथियों ने विभिन्न प्रजातियों के पौधे वितरित किए गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.