बस्तर में महाराष्ट्र के रास्ते कोरोना की एंट्री,दुर्गकौंदल ब्लॉक के कलंग पुरी में मिला बस्तर का पहला मरीज

कांकेर।बस्तर में कोरोना का पहला मरीज कांकेर जिले में मिल गया।लॉक डाउन को शिथिल करते हुए जिस तरह प्रदेश के बाहर से खासकर मजदूरों को लाने का क्रम प्रारंभ हुआ। तभी से लोगों ने आशंका जाहिर की थी कि अब प्रवासी मजदूरों के जरिए बहुत जल्द कोरोनावायरस में भी दस्तक दे सकता है।लोगों का अंदेशा उस समय सही साबित हुआ जब गुरुवार की सुबह जानकारी मिली कि जिले के दुर्गकोंदल ब्लॉक के कलंगपूरी गांव की एक युवक की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है।युवक को तत्काल एम्स रायपुर रिफर किया गया है। जबकि उसके साथ क्वॉरेंटाइन सेंटर में रहने वाले 8 लोगों के सैंपल रायपुर भेजे गए हैं।दुर्गकोंदल ब्लॉक के कलंगपूरी गांव का युवक बांद्रा के एक कंपनी में काम करता था।लेकिन हाल ही में जिस तरह से प्रवासी मजदूर अपने गांव की ओर लौटने लगे युवा वह भी ट्रक में सवार होकर 11 मई को मुंबई से निकल गया। जिसके साथ करीब 30 से 40 लोग ट्रक में सवार थे।सीजीवालडॉटकॉम NEWS के व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक कीजिए

युवक 13 मई को अपने साथियों के साथ राजनांदगांव पहुंचा।रात में सार्वजनिक बनाने में भोजन भी किया और कच्चे पहुंचा।युवक राजनांदगांव से जब कच्चे पहुंचा तब रात के करीब 11:00 बज चुके थे।जिससे वह अपनी बहन के घर में रुक गया। बहन के घर में चार लोगों से उसकी मुलाकात हुई।जिसके बाद सुबह हुआ कच्चे से हॉटगोंदल के लिए एक गाड़ी में सवार होकर पहुंचे। तब उसका संपर्क चालक से भी हुआ होगा। हॉटकौंदल में स्वास्थ्य विभाग के अमले ने उसका सैंपल लिया।बांद्रा से कांकेर जिले के तीन और लोग भी आए हैं जो धनोरा के क्वॉरेंटाइन सेंटर में हैं।

Tags:,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *