मेरा बिलासपुर

बहुत पद है खाली..मिलेगा मौका.. संसदीय सचिव रश्मि ने कहा.. सुविधाओं में कटौती..दायित्वों में नहीं..

बिलासपुर— महिला बाल विकास सही मायनों में समाज अंतिम इकाई तक पहुंचने वाला विभाग है। विभाग के कार्यकर्ता और कर्मचारी सरकार की जनहित योजनाओं को समाज के अंतिम छोर तक पहुंचाते हैं। अभी कई पद खाली हैं..उम्मीद है कि बिलासपुर विधायक को भी स्थान मिलेगा। लेकिन मुझे कोई पद मिलेगा इस बात की जानकारी नहीं थी। यह बातें नव नियुक्त महिला एवं बाल विकास की संसदीय सचिव रश्मि आशीष सिंह ने कही। रश्मि सिंह का पद पाने के बाद पहली बार बिलासपुर पहुंचने कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने आत्मीय स्वागत किया। साथ ही कांग्रेस भवन में आयोजित स्वागत कार्यक्रम को रश्मि ने संबोधित भी किया।CGWALL NEWS के व्हाट्सएप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक कीजिये और रहे देश प्रदेश की खबरों से अपडेट

                महिला एवं  बाल विकास संसदीय सचिव बनने के बाद पहली बार बिलासपुर पहुंची तखतपुर विधायक रश्मि सिंह का कार्यकर्ताओं ने आत्मीय स्वागत किया। पत्रकारों से बातचीत करने से पहले रश्मि सिंह ने कांग्रेस कार्यालय में आयोजित सम्मान समारोह को संबोधित किया। अपने भाषण के दौरान नव नियुक्त संसदीय सचिव ने जमकर तालियां बटोरी।

            पत्रकारों से बातचीत के दौरान रश्मि सिंह ने कहा कि पहले तो विभाग के कामधाम को समझने का प्रयास करूंगी। यूपीए सरकार के समय चलाई गयी विशेष योजना सुपोषण अभियान को सफल बनाने का युद्धस्तर पर प्रयास करूंगी। साथ ही प्रयास होगा कि प्रदेश में सुपोषण का ग्राफ बढ़े। प्रदेश की एक एक महिला और बच्चे सुपोषित रहें।

                रश्मि सिंह ने बताया कि महिला एवं बाल विकास विभाग समाज की अंतिम इकाई तक पहुंचने वाला बड़ा विभाग है। कार्यकर्ताओं और स्व सहायता समूह के माध्यम से शासन की योजना अंतिम व्यक्ति तक पहुंचती है। इसे और बेहतर और चुस्त बनाने का विशेष प्रयास रहेगा। ताकि प्रदेश का कोई भी व्यक्ति सुपोषण अभियान से अछूता ना रहे। साथ ही शासन की योजनाओं का संचालन बेहतर तरीके से हो सके।

अटल ने कहा...सरकार के दावे और वादे को बलैया...टैक्स के लिए मोहल्ला कार्यालय..स्वास्थ्य के लिए क्लिनिक नहीं

            एक सवाल के जवाब में रश्मि सिंह ने बताया कि कोरोना काल के दौरान सुपोषित रखने लोगों तक सूखा राशन की बिक्री की गयी है। किसी प्रकार की शिकायत भी नहीं है। फिर भी हम पता लगाएंगे की कहां कुछ शिकायत है।

                  रेडी टू इट काफी दूर दराज क्षेत्रों में तैयार किया जाता है। शहर के लिए या स्थानीय स्तर पर तैयार करने का  क्या अलग से प्रयास होगा। रश्मि सिंह ने बताया कि हमारी जानकारी लाया गया है । पड़ताल के बाद कुछ बता पाउंगी। 

                  संसदीय सचिवों के अधिकारों में बहुत कटौती हुई है। क्या भली भांति संसदीव सचिव कर पाएंगे। रश्मि सिंह ने कहा कि हाईकोर्ट ने अधिकारों पर नहीं बल्कि सुविधाओं में कटौती की है। जैसे प्रोटोकाल और मंत्री के समान सुविधाओं में कमी की गयी है। मेरा काम विभागीय मंत्री का सहयोग करना है। सुविधाओं को लेकर चिंतित नहीं रहना है।क्योंकि दायित्वों में कटौती नहीं हुई है। काम करने में कोई बंदिश नहीं है।

                   लोगों में एक बात जमकर चर्चा में है कि निगम मंडलों और सचिवों की नियुक्ति में बिलासपुर की अनदेखी हुई है। क्या आपको भी ऐसा लगता है। जवाब में रश्मि सिंह ने कहा कि बिलासपुर में हम दो ही विधायक है। लेकिन मुझे जानकारी नही थी कि पद मिलेगा। मीडिया से जानकारी मिली थी कि दोनों विधायकों का नाम है। लेकिन अभी बहुत पद खाली है मुझे पूरा भरोसा है कि बिलासपुर को आशान्वित रह सकता है। 

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS