मेरा बिलासपुर

विपरीत परिस्थितियों में हुनर आजमाइश..एसईसीएल

Rescue Competitionबिलासपुर–खान बचाव प्रतियोगिता आयोजन से कर्मचारियों को अपने ज्ञान एवं कौशल को दिखाने का अवसर मिला। एसईसीएल कार्यालय में आयोजित प्रतियोगिता से सभी कर्मी समय आने पर मानव जीवन को बचाने में काफी महत्वपूर्ण भूमिका अदा कर सकेंगे । ये बातें मुख्य अतिथि बी.पी. सिंह उप महानिदेशक प्रभारी खान सुरक्षा पश्चिम अंचल नागपुर ने एसईसीएल सोहागपुर क्षेत्र में कही। 10 अक्टूबर को आयोजित एसईसीएल अन्तर क्षेत्रिय खान बचाव प्रतियोगिता 2015 के समापन अवसर पर कार्यक्रम अध्यक्ष एसईसीएल के निदेशक तकनीकी संचालनआर.पी. ठाकुर, विशिष्ट अतिथिसांसद दलपत सिंह परस्ते, निदेषक कार्मिक डॉ. आर.एस. झा, मुख्य महाप्रबंधक सुरक्षा एवं बचाव आर.के. मांझी, महाप्रबंधक सोहागपुर क्षेत्र डी.पी. तिवारी की उपस्थिति में व्यक्त किए ।

       कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए निदेशक तकनीकी आर.पी. ठाकुर ने कहा कि दुर्घटना के बाद उत्पन्न परिस्थितियों से निपटने के लिए खान बचाव सेवाओं का कार्य अत्यंत महत्वपूर्ण हो जाता हे । अंतर क्षेत्रिय खान बचाव प्रतियोगिता के माध्यम से हम अपने रेस्क्यू प्रशिक्षित कर्मचारियों एवं बचाव दल की योग्यता और कार्यकुशलता को परखते हैं। उन्होंने कहा मुझे गर्व है कि एसईसीएल का खान बचाव दल किसी भी चुनौतीपूर्ण परिस्थिति से मुकाबला करने के लिए सक्षम है ।

       विषिष्ट अतिथि निदेषक कार्मिक डॉ आर.एस. झा ने कहा कि जो जिंदगी बचाता है उसे भगवान का दर्जा प्राप्त है । खान बचाव प्रतियोगिता के आयोजन से खान बचाव कर्मियों में नई ऊर्जा का संचार होता है ।

       इस अवसर पर मुख्य महाप्रबंधक खान सुरक्षा-बचाव आर.के. मांझी ने खान सुरक्षा वार्षिक प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। उन्होंने बताया कि माईन रेस्क्यू रूल 1987 के अनुसार सभी खदानों में बचाव प्रशिक्षित व्यक्तियों की निर्धारित संख्या को रखा गया है।

राज्यस्तरीय तैराकी प्रतियोगिताः नन्ही निमिषा को तीन पदक

         इसके पूर्व उपस्थितों का स्वागत करते हुए महाप्रबंधक सोहागपुर क्षेत्र डी.पी. तिवारी ने कहा कि गर्व का विषय है कि सोहागपुर क्षेत्र चिरमिरी क्षेत्र को खान सुरक्षा बचाव प्रतियोगिता कार्यक्रम का दायित्व दिया गया । इस प्रतियोगिता में समस्त एसईसीएल क्षेत्रों की टीमों ने उत्साह से भागीदारी की ।

       कार्यक्रम की शुरूआत माता सरस्वती के पूजन एवं दीप प्रज्जवलन से हुआ। इसके बाद प्रारंभ हुआ। इंडिया कारपोरेट गीत बजाया गया ।शहीद श्रमवीरों को श्रद्धांजलि देते सभी ने एक मिनट का मौन रखा । इस अवसर पर अतिथियों ने स्मारिका का विमोचन भी किया । दामिनी भूमिगत खदान के कर्मियों ने सेफ्टी ड्रामा का मंचन किया। कार्यक्रम के अंत में विजयी प्रतिभागियों को अतिथियों ने पुरस्कृत किया ।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS